तेज और अनोखा भ्रष्टाचार करने का मुकाबला: नरेंद्र मोदी


सुरभ सिंह
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इकनॉमिक टाइम्स ग्लोबल बिजनस समिट में संबोधित किया. इस समिट में उन्होंने पिछले पांच सालों में अपनी सरकार द्वारा किए गए काम गिनवाए। साथ ही उन्होंने 2014 में उनकी सरकार आने से पहले हुए भ्रष्टाचारों को लेकर विपक्ष पर भी निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि पहले सरकार में भ्रष्टाचार को लेकर कॉम्पीटिशन होता था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इकनॉमिक टाइम्स ग्लोबल बिजनस समिट में संबोधित किया और उन्होंने इस दौरान अपनी सरकार द्वारा पिछले पांच साल में किए गए कामों के बारे में, भारत की आर्थिक स्थित में हुए विकास के बारे में , उनकी सरकार के आने से पहले हुए भ्रष्टाचार के बारे में बात की है। उन्होंने कहा ‘कुछ समय पहले ही हमारी सरकार लोगों की सेवा के लिए आई और आज कई बड़े बदलाव सामने हैं। ‘2014 से पहले भी हमने कई प्रतियोगिता देखी हैं, लेकिन ये अलग तरह की थीं। ये मंत्रियों और लोगों के बीच भ्रष्टाचार और देरी को लेकर थी. पहले प्रतियोगिता होती थी कि सबसे ज्यादा, सबसे तेज और सबसे अनोखा भ्रष्टाचार कौन करेगा। उन्होंने निशाना साधते हुए कहा, ‘पहले प्रतियोगिता थी कि कोयला को ज्यादा रकम मिलेगी या स्पेक्ट्रम को, कॉमनवेल्थ गेम्स को ज्यादा रकम मिलेगी या रक्षा डील को. हम सभी ने देखा है कि इन प्रतियोगिताओं में खेलने वाले प्रमुख खिलाड़ी कौन थे।’ उन्होंने कहा कि पहले कहा गया था भ्रष्टाचार मुक्त सरकार नामुमकिन है लेकिन भारत के लोगों ने इसे मुमकिन कर दिया है।

Comments are closed.