ईद की खरीदारी के लिए बाजारों में उमड़ी भीड़


धर्म प्रकाश संवाददाता
बिहार/नालन्दा/इस्लामपुर : माह-ए-रमजान में अलविदा जुमे की नमाज के बाद अब बाजारों में रोजेदारों की भीड़ उमड़ने लगी है। ईद के लिए कपड़ा, जूता, सौन्दर्य प्रसाधन व क्रॉकरी के सामानों की जहां खरीद जोरों पर है। वहीं विभिन्न तरह की सेंवइयों सहित अन्य खाद्य पदार्थो की बिक्री में तेजी आ गयी है। ईद की तैयारी को लेकर लोगों में काफी उत्साह है। नगर के केबी चौक, तकिया कला, छोटी बाजार, ईदगाह मस्जिद आदि इलाकों में रविवार को खरीदारी करने के लिए रोजेदारों की भीड़ उमड़ पड़ी।

दोपहर में धूप ज्यादा होने के कारण रोजेदार अपने घरों से कम निकले। जबकि शाम होते ही बाजार में रोजेदारों की भीड़ जुटनी शुरू हो गयी। इसमें सबसे ज्यादा पुरुष व महिलाओं की भीड़ कपड़ों, जूतो व क्रॉकरी की दुकानों पर रही। वहीं सौन्दर्य प्रसाधन की दुकानों पर महिलाओं की भीड़ अपेक्षाकृत ज्यादा देखी गयी। ईद पर विभिन्न तरह की सेवइयों की खरीदारी करने के लिए लोग मशगूल दिखाई दिये। नगर के विभिन्न इलाकों में खुले शापिंग मालों में भी ईद की खरीदारी करने वालों की भीड़ जुटी रही। लोगों को आकर्षित करने के लिए शापिंग माल भी विभिन्न तरह की स्कीमें लांच कर दिये हैं। जो लोगों को बरबस ही अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं।

अन्य दिनों की तुलना में भीड़ ज्यादा होने के कारण जाम जैसी स्थिति भी उत्पन्न हो गयी। इसके बावजूद लोगों का उत्साह कम होने का नाम नहीं ले रहा था। वहीं मुस्लिम बाहुल्य इलाके मल्लाह बिगहा, बुढ़ा नगर, खुदागंज, मीना बाजार, में भी सुबह से रोजेदार ईद की तैयारियों के लिए खरीदारी कर रहे थे। ईद का पर्व जैसे-जैसे करीब आ रहा है, वैसे-वैसे इस्लामपुर की रौनक बढ़ती जा रही है। लोग राशन की दुकानों से सेवई व मेवा मसालों की खूब खरीदारी कर रहे है। रात हो या दिन लगभग हर समय बराबर ही चल रहा है।

इस मार्केट में कपड़े से लेकर जूते, चप्पल व घरों की सजावट के लिए झालर से लेकर फाईबर से बने झाड़ी की खूब खरीदारी हो रही है। महिलाएं अपनी जरूरत के सामानों के साथ-साथ बच्चों के रेडीमेड कपड़े की खरीदारी कर रही हें। वैसे जूते व चप्पल के लिए पुराना थाना चौक स्थित सभी दुकानों पर ज्यादा ही भीड़ दिखाई दे रही है। जबकि पुलिस बूथ व सब्जीमंडी आदि जगहों पर लोग फुटपाथ पर सेल की दुकाने सजी हुई है। लोगों ने सेवईयां, काजू, बादाम, पिस्ता, छुआरे, गोला आदि ।

Comments are closed.