लोकतंत्र का महापर्व लोकसभा चुनाव सुरक्षा के बीच शांतिपूर्ण हुआ सम्पन्न


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-पहले चरण के तहत जमुई लोकसभा क्षेत्र के जमुई जिला अंतर्गत सभी चार विधानसभा क्षेत्र में गुरूवार को शांतिपूर्ण माहौल में मतदान संपन्न हुआ। भयमुक्त वातावरण में 53.35 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। जिला निर्वाचन पदाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि दोपहर 2 बजे तक 32 प्रतिशत मतदान हुआ था लेकिन धूप कम होने के बाद शाम 4 बजे तक मतदान प्रतिशत में इजाफा हुआ और 53.35 प्रतिशत लोगों ने मत डाले जो पिछले लोकसभा चुनाव से 3 प्रतिशत अधिक है। इधर मतदान को लेकर सुबह से ही मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की लम्बी कतार लग गई। खासकर महिलाओं ने बढ़-चढ़ कर मतदान में हिस्सा लिया। दोपहर चिलचिलाती धूप में भी मतदाता कतार में खड़े रहे।

कई बूथों पर ईवीएम हुआ खराब,चार बूथों पर ग्रामीणों ने किया बहिष्कार
हालांकि जिले के 1263 मतदान केंद्रों में कई जगहों पर ईवीएम की खराबी के कारण मतदान देर से प्रारंभ हुआ।वहीं चार जगहों पर ग्रामीणों ने वोट का बहिष्कार किया।सिकंदरा विधानसभा क्षेत्र के करमा गांव के ग्रामीणों ने नहर में पानी नहीं और प्रत्याशियों के नहीं आने पर विरोध जताते हुए वोट बहिष्कार किया।लिहाजा बूथ संख्या 129 तथा 130 पर एक भी मत नहीं पड़े।वहीं जमुई विधानसभा क्षेत्र के तरी दाबिल गांव में बूथ संख्या 232 पर ग्रामीणों ने रोड नहीं तो वोट नहीं का नारा लगा वोट का बहिष्कार किया।इस दौरान ग्रामीणों और पुलिस के बीच झड़प हुई जिसमें ग्रामीणों ने ईवीएम को तोड़ डाला।इसी प्रकार झाझा के तेलियाडीह तथा चकाई के जलखरिया में भी लोगों ने वोट का बहिष्कार किया, हालांकि बाद में दोनों जगहों पर मतदान हुआ।

हेलीकॉप्टर से चुनावी गतिविधि पर रखी जा रही थी नज़र
वहीं एक ओर चुनाव के दौरान चुनावी गतिविधि को लेकर हेलीकॉप्टर से निगरानी की जा रही थी।खास कर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में हेलीकॉप्टर द्वारा कड़ी निगरानी रखी जा रही थी।तो दूसरी तरफ डीआईजी मनु महाराज,डीएम धर्मेंद्र कुमार, एसपी जगुन्नाथ रेड्‌डी,मतदान केंद्रों पर जाकर हालात का जायजा लिया। नक्सल गतिविधियों को देखते हुए बरहट के कुकुरझप डैम, खैरा के गरही डैम,हरणी, चकाई, झाझा के नक्सल प्रभावित इलाके में एसएसबी व पारा मिलीट्री फोर्स की तैनाती की गई थी।बिहार और झारखंड की सीमा को पूरी तरह सील कर दिया गया था।

Comments are closed.