लूट और गोलीबारी की जाँच को लेकर घटनास्थल पर पहुंचे DIG मनुमहाराज व SP जगुनाथरेड्डी


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-मुंगेर प्रक्षेत्र के डीआईजी मनुमहाराज बुधवार को जमुई के एसपी जगुनाथरेड्डी के साथ जिले के मलयपुर बस्ती पहुँचे।जहां मंगलवार की बीती रात्रि हुए नक्सली हमले के पीड़ित परिजन से मिले और घटनास्थल पर पहुंच कर घटना की बारीकी से जांच किये।वहीं डीआईजी मनुमहाराज पीड़ित आभूषण व्यापारी राजबहादुर साह के घर में तकरीबन 40 मिनट तक जांच किये।उसके बाद घटना को अंजाम देकर नक्सली जिस दिशा की ओर भागे थे फिर डीआईजी उसी दिशा आनंद नदी की ओर जाकर एसपी जगुनाथरेड्डी से देवाचक इलाके की भौगोलिक दशाओं की जानकारी ली और साथ ही घटना को गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच और जंगलों में सर्च अभियान चलाने का निर्देश दिए।हालांकि निरीक्षण के दौरान प्रथम दृष्या नक्सली वारदात ही पाया गया है।

ग्रामीणों ने DIG और SP से थानाध्यक्ष को निलंबित करने का किया मांग
डीआईजी मनुमहाराज और एसपी जगुनाथरेड्डी के घटनास्थल पर पहुंचते दर्जनों की संख्या में ग्रामीणों ने एसपी व डीआईजी से मलयपुर थानाध्यक्ष अमित कुमार को हटाने की मांग की। ग्रामीणों ने कहा की नक्सलियों के घर में प्रवेश करते ही मामले की जानकारी मलयपुर थानाध्यक्ष अमित कुमार को दी गई थी।इसके बावजूद उन्होंने मामले की सही जानकारी लेने व पता करने की बात करते रहे।यदि  जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच जाती तो शायद घटना को रोका जा सकता था।

लाखों की हुई थी लूट,पिता पुती को लगी थी गोली
बताते चलें कि मंगलवार की देर रात्रि मलयपुर बस्ती पर राजबहादुर साह के घर को तकरीबन 100 की संख्या में आये हथियारबंद नक्सलियों ने घेर लिया और 10 कि संख्यां में नक्सली घर में घुसे और लगभग आधा घंटा तक तांडव मचाते रहे इतना ही नहीं नक्सलियों द्वारा सभी घर वालों को बंदी बनाकर कर घर में रखे जेबरात,नगद सहित लाखों रुपये की कीमती सामान लूट लिया।जब परिजन ने इसका विरोध किया तो नक्सलियों ने ताबड़तोड़ 05 फायरिंग करते हुए देवाचक जंगल की ओर फरार हो गए।इस फायरिंग में राजबहादुर साह के हाथ मे एक गोली लगी जबकि उसकी पुत्री अमृता राज उर्फ निक्की कुमारी की दोनो जांघ में 04 गोली लग गई।उसके बाद स्थानिए लोगों द्वारा घायल पिता व पुत्री को एक निजी क्लिनिक में भर्ती कराया गया जहाँ चिकित्सक द्वारा गंभीर अवस्था में पुत्री को पटना रेफर कर दिया गया था।

कहते हैं एसपी
घटना स्थल के निरीक्षण के बाद एसपी जगुनाथरेड्डी ने कहा कि प्रथम दृष्टया मामला नक्सली वारदात का प्रतीत हो रहा है।पुलिस मामले की सघन जांच कर रही है नक्सलियों के संभावित ठिकानों पर छापामारी अभियान चलाया जा रहा है।

कहते हैं डीआईजी
इस संबंध में मुंगेर प्रक्षेत्र के डीआईजी मनु महाराज ने कहा कि मामले को गंभीरता से लिया गया है। पुलिस हर बिंदुओं पर जांच कर रही है।एफएसएल की टीम को बुलाया गया है। ग्रामीणों से बात की जा रही है। दोषी कोई भी होंगे बख्शे नहीं जाएंगे।जल्द ही मामले का उद्भेदन कर अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Comments are closed.