जिलाधिकारी के दरबार में पहुंचे फरियादी, लगाई न्याय की गुहार


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:- जिलाधिकारी के निर्देशानुसार लोक साक्षात्कार कार्यक्रम के तहत कार्यालय कक्ष में जनता दरबार का आयोजन किया गया।जनता दरबार में कुल 30 मामला आया जिसके निष्पादन के लिए जांचोपरांत संबंधित विभाग को निष्पादन के लिए भेज दिया गया।सोनो थाना क्षेत्र के मोगलचपरी निवासी श्याम सुंदर साव ने आवेदन दे कर सेविका गीता देवी का चयन फर्जी प्रमाणपत्र पर होने की बात कही है।उसका कहना है कि सोनो प्रखंड स्थित सारेबाद के आंगनबाड़ी केन्द्र 11 परिवर्तित केन्द्र संख्या 174 मोगलाचपरी की सेविका गीता देवी का चयन तत्कालीन बाल विकास परियोजना पदाधिकारी सोनो व चयन समिति के सदस्यों ने मिलीभगत से जाली प्रमाण पत्र के आधार पर सेविका का चयन कर लिया गया है।आवेदक ने इस बारे में सूचना के अधिकार के तहत आवेदन दिया तो पाया गया कि गीता देवी का प्रमाणपत्र जाली है।इसलिए इस मामले में जांच करके दोषी लोगों के खिलाफ समुचित कार्रवाई की जाए।

वहीं झाझा थाना के केशोपुर पंचायत के रामदासपुर निवासी नवल सिंह ने आवेदन दे कर गुहार लगाते हुए कहा कि उसे आज तक प्रधानमंत्री आवास नहीं मिला है।गरीबी की वजह से बिचौलियों को रुपया देने में अक्षम है।इसलिए आज तक उसका मकान नही बना है। जबकि  पक्के मकान वाले लोगों ने भी पैसे देकर प्रधानमंत्री आवास का लाभ ले लिया है। उसने इसकी शिकायत कई बार पदाधिकारियों से किया है लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई।बरहट थानाक्षेत्र के फुलवरिया के निवासी नागेश्वर सिंह ने आवेदन देकर सड़क निर्माण विभाग के लिए किए गए भू अर्जन के एवज में मुआवजा की मांग की है।उनकी जमीन का सड़क निर्माण के लिए भूअर्जन किया गया था, उस जमीन पर वर्षो पूर्व सड़क भी बन गयी पर आज तक उसे मुआवजा नहीं दिया गया है।वह वर्षो से कार्यालय दर कार्यालय का चक्कर लगा रहे है ,पर आज तक कोई सुनवाई नहीं हुई है।उसने अपनी जमीन का हवाला देते हुए बताया है कि फुलवरिया में खाता 28, खसरा 221 व खाता 28 खसरा 470 को कुल मिला कर 21.5 डीसमिल जमीन उसका है जिसे उसके पूर्वजों ने अर्जित किया था।इसलिए समुचित जांच कर उसे मुआवजा दिलाने की कृपा किया जाय।मौके पर जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी प्रतिभा कुमारी और अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी सीमा कुमारी मौजूद थी।

Comments are closed.