जिले की पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी


रमेश शंकर झा, समस्तीपुर बिहार
समस्तीपुर:- जिले के मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के लगुनियां रघुकंठ पंचायत से अपहृत लड़की को पुलिस ने सकूशल किया बरामद। बतादे कि विगत 21 मई 2019 को लड़की को उस समय अपहरण कर लिया गया था जब वह अपने पिता के साथ कोचिंग से घर लौट रही थी। वहीँ आज पटना जिला के बख्तियारपुर से सकुशल अपहृत लड़की को बरामद कर लिया गया है। बीते दिन इस मामले को लेकर आक्रोशित ग्रामीण लोगों ने स्टेडियम मार्केट के पास गोलंबर को जाम कर दिया था, छात्रा को सकुशल बरामद के लिए।

जिसमे जाम को हटाने के लिए पुलिस ने लाठी भी बरसाई थी। बतादें कि इस घटना के संबंध में मुफस्सिल थाना कांड संख्या 241/19 दिनांक 22/05/2019 धारा 364 दर्ज किया गया था। कांड के उद्भेदन एवं अपहृता की बरामदगी हेतु अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सदर प्रीतीश कुमार के नेतृत्व में पु०नि० सह थानाध्यक्ष मुफ्फसिल विक्रम आचार्य, पु०नि० सह थानाध्यक्ष नगर सीताराम प्रसाद, पु०नि० डी०आई०यू० संजय कुमार, डी०आई०यू० अखिलेश कुमार, पु०अ०नि० संजय कुमार का एक टीम गठन किया गया। घटना के पश्चात अपहृत के पिता से दो करोड़ रु० की रंगदारी की मांग की गई थी। फिरौती मांगने वाले अपने आपको ब्लैक हैट हैंकर बताया था।

टीम के द्वारा तकनीकी एवं वैज्ञानिक अनुसंधान तथा स्थानीय गुप्तचर के सहयोग से संदिग्धों के बारे में थोड़ी सूचना प्राप्त हुआ था। जिसके विश्लेषण एवं सर्विलांस के आधार पर कांड के मुख्य साजिशकर्ता गुड्डू कुमार को पकड़ा गया। जिन्होंने पूछताछ में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए अन्य सहयोगी ०१.सुमन राजवंश, ०२.विजय कुमार, ०३. सुजीत कुमार, ०४ अजीत कुमार राय, ०५. सोनू, ०६. सुनील सहनी का नाम बताया। अन्य संलिप्त एवं सहयोगी अपराधी ०१.सुमन कुमार राजवंश, ०२. निरज सहनी ०३. नीरज सहनि की माँ को खानपुर थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया। सुमन के पास से रैनसम करने वाला सिम एवं मोबाइल सेट बरामद हुआ। वहीँ ब्लैक हैट हैंकर से पूछताछ की गई तो उसके द्वारा बताया गया कि वह बी० टेक० किया हुआ है तथा उसका नाम सुमन है। वह अच्छी अंग्रेजी एवं अन्य देशी भाषाओं का जानकार भी है, जिसके द्वारा अपने अंतरराष्ट्रीय हैकर बताकर फिरौती हेतु मोबाइल द्वारा कॉल कीया था। हैकर द्वारा फिरौती मांगने के संबंध में इंडियन पुलिस को अपने आपको पकड़ने की चुनौती दीया था।

सिम व सेट के बारे में सुमन के द्वारा बताया गया कि मैं और मेरा भाई नीरज सहनी 22 मई 2019 को रात्रि में मोबाइल लूटा था। लूटा गया मोबाइल जिससे फिरौती की मांग की गई थी, वह सेट सुमन के मां प्रमिला देवी के पास से बरामद हुआ। गुड्डू द्वारा बताए गए ठिकाने बख्तियारपुर से अपहृत लड़की को बरामद किया गया। इससे पूर्व अपहृत लड़की को उजियारपुर थाना क्षेत्र के पचपैका गांव में कई स्थानों पर अपराधियों के घर में रखा गया था। बख्तियारपुर से अपहृत को निगरानी में रख रहे अपराधी विजय और सुजीत को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीँ विजय, सुजीत एवं सुमन कुमार के बयान के आधार पर घटना में प्रयुक्त वाहन आई 20 कार जे.एच.10 ए.टी.-6759, घटना में प्रयुक्त स्प्लेंडर मोटरसाइकिल तीन हथियार एवं तीन कारतूस, फिरौती मांगने में प्रयुक्त मोबाइल सिम एवं सेट, अपहरण के दिन अपहृत लड़की द्वारा पहना गया कपड़ा, घटना एवं लाइनर में प्रयुक्त मोबाइल:-10, बरामद किया गया।

अपहृत लड़की को दिनांक 21 मई 2019 की रात्रि में पचपैका गाँव के सुजीत के घर सुजीत के मां कलमुखी देवी की निगरानी में रखा गया था। सुजीत की मां कलमुखी देवी को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस कांड में कुल 08 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। इस पूरे कांड में अपहृत के गांव भिंडी टोला व कोरबद्धा के दो युवकों को पकड़ा गया, जिसके द्वारा लाइनर एवं मुख्य भूमिका निभाया था। सुमन कुमार का अपराधिक इतिहास खानपुर थाना कांड संख्या 21/19 दिनांक 13/02/19 धारा 385/387 के अभियुक्त है। यह खानपुर थाना क्षेत्र में होम्योपैथिक के डॉक्टर से रंगदारी मांगने से संबंधित है। गिरफ्तार अपराधियों का विवरण:- ०१.गुड्डू पिता शिवशंकर महतो ग्राम कोरबद्धा थाना मुफ्फसिल, ०२.सुमन उर्फ राजवंशी सहनि ०३. नीरज सहनी पिता कुशेश्वर सहनि, ०४.प्रमिला देवी पति कुशेश्वर सहनि ग्राम सलेमपट्टी थाना खानपुर, ०५. विजय उर्फ मामा पिता रामा शंकर प्रसाद ग्राम पचपैका थाना उजियारपुर, ०६.अजीत पिता श्री नारायण ग्राम भिंडी टोल थाना मुफस्सिल, ०७.सुजीत पिता रामकुमार यादव ०८. कलमुखी देवी पति रामकुमार यादव ग्राम बलोचक थाना उजियारपुर, जिला समस्तीपुर का सभी रहने वाला है। इस घटना की जानकारी आज मुफस्सिल थाना में प्रेस वार्ता कर एसपी हरप्रीत कौर ने दी। अपहृत लड़की के पिता और माँ ने इकलौती लाडली बेटी की सकुशल बरामदगी के लिए जिले के पुलिस प्रशासन को आभार व्यक्त किया।

Comments are closed.