पूल नहीं तो वोट नहीं, ग्रामीणों ने बोट नहीं देकर बहिष्कार किया


रमेश शंकर झा,समस्तीपुर बिहार।
समस्तीपुर:- जिले के उजियारपुर लोकसभा क्षेत्र के पटोरी अनुमंडल के रूपौली पंचायत के प्राथमिक विद्यालय के आरैया मतदान केंद्र संख्या 42 पर मात्र चार मत मतदाताओं ने मत का प्रयोग किया। जबकि इस मतदान केंद्र पर मत की कुल संख्या 1308 हैं। इस गांव के अधिकांश मतदाता अपने पंचायत के पंच से लेकर सरपंच वार्ड से लेकर मुखिया तक एमपी, एमएलए सहित मुख्यमंत्री तक अपने गांव के सड़क एवं नदी पर पुल निर्माण तथा पेयजल संकट के मांग को लेकर वोटों का बहिष्कार करने का निर्णय लिया था।

इस गांव में अधिकांश लोगों ने मुखिया से लेकर मुख्यमंत्री तक अपनी नाराजगी जाहिर वोट नही देकर कीया है। उल्लेखनीय है कि तमाम मतदाता एक ही समुदाय से आते हैं। दुर्भाग्यपूर्ण बात है की सांसद, एमएलए, मुखिया वार्ड, मेंबर सभी के सभी एक ही जाति से आते हैं, फिर भी कोई विकास का काम नहीं किए जाते हैं। इस बात को लेकर गांव में तनाव की स्थिति बनी हुई है। इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता की मोहनपुर प्रखंड में कई जगह नदी है, लेकिन नदी में पूल बनाने के लिए कोई भी नेता आगे नहीं आते हैं, जैसे जलालपुर पंचायत के शाहपुर बराट के वार्ड नंबर 14 में भी कई सालों से नदी में पुल की चर्चा होती है, लेकिन चुनाव के समय में ही चर्चा होती है, चुनाव खत्म पुल का वादा किया हुआ सब खत्म हो जाता है।

Comments are closed.