वीडियोकॉन लोन मामले में चंदा कोचर, वेणुगोपाल धूत के ठिकानों पर ईडी के छापे

google image

नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय ने शुक्रवार को आईसीआईसीआई बैंक की पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी चंदा कोचर और वीडियोकॉन समूह के प्रमोटर वेणुगोपाल धूत के आवासों पर एक साथ छापेमारी की।  यह छापेमारी विडियोकॉन समूह के लिए 1,875 करोड़ रुपए के कर्ज को मंजूरी देने में कथित अनियमितताओं और भ्रष्टाचार से जुड़े मामलों की जारी जांच के तहत की गई।

एजेंसी ने कोचर के दक्षिण मुंबई और धूत के औरंगाबाद स्थित आवासों की तलाशी ली।इससे पहले केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने मुंबई और औरंगाबाद में नूपावर रिन्यूएबल्स और धूत के कार्यालय की तलाशी ली थी।यह पहली बार है जब ईडी ने कोचर के आवास पर छापा मारा है।ईडी ने सीबीआई की प्राथमिकी के आधार पर फरवरी में धनशोधन का मामला दर्ज किया था। जनवरी में सीबीआई ने मामले से संबंधित मुंबई में चार स्थानों पर छापा मारा था।
कोचर पर अन्य आरोपियों के साथ एक आपराधिक साजिश कर निजी कंपनियों को ऋण स्वीकृत करने का आरोप है।प्राथमिकी 31 मार्च, 2018 को दीपक कोचर, वीडियोकॉन समूह के अधिकारियों और अन्य लोगों के खिलाफ प्रारंभिक जांच (पीई) के मद्देनजर दर्ज की गई। प्रारंभिक जांच यह पता लगाने के लिए की गई थी कि आईसीआईसीआई बैंक द्वारा एक कंसोर्टियम के हिस्से में ऋण की मंजूरी में कुछ गलत हुआ है या नहीं।

Comments are closed.