सड़क हादसा में घायल हुए बाइक सवार को रोजे की हालत में युवक ने खून देकर जान बचाने का किया प्रयास


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम जमुई (बिहार)..हमुई
जमुई:-रविवार की देर शाम जमुई मुख्यालय स्थिति जिला परिषद कार्यालय के समीप तेज रफ्तार बाइक अनियंत्रित हो कर सड़क किनारे बिजली के पोल से टकरा गई।जिससे बाइक बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई।इस दुर्घटना में बाइक सवार सदर थाना क्षेत्र के शास्त्री क्लोनी मोहल्ले स्थित शैलेश सिंह का पुत्र शरद सिंह गंभीर रूप से घायल हो गया।वहीं घायल युवक को स्थानिए लोगों की मदद से सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया।जहाँ युवक की गंभीर स्थिति को देखते हुए चिकित्सक ने प्राथमिक उपचार के बाद पटना रेफर कर दिया।बताया जाता है कि युवक बाइक पर सवार होकर अपने घर से बाजार की ओर आ रहा था तभी बाइक की गति तेज होने की वजह से बाइक असंतुलित होकर सड़क किनारे बिजली के पोल से टकरा गई।

रोज़े की हालत में ब्लड डोनेट कर युवक ने एकता का दिया परिचय
बताते चलें कि शरद सिंह सड़क दुर्घटना में बुरी तरह जख्मी होने के बाद कुछ ही क्षणों में युवक के शरीर से काफी खून निकलने की वजह से उसे खून देने की आवश्यक्ता हो गई।चिकित्सक के अनुसार युवक को ए पॉजिटिव खून की ज़रूरत थी जिसको लेकर कई लोगों ने जांच कराई लेकिन किसी का ब्लड ग्रुप नहीं मिला।इसको लेकर कुछ क्षणों के लिए अफरातफरी का माहौल बन गया।वहीं सूचना मिलते ही जमुई सुन्नी उलमाए बोर्ड के सदस्यों के सहयोग से पैठान चौक निवासी जावेद अख्तर उर्फ़ बबलू के द्वारा रमज़ान के महीने में रोजा की हालत में रहने के बावजूद अपना खून देकर जिंदगी बचाने का प्रयास किया।वहीं हिन्दू-मुस्लिम एकता को भी आईना दिखाने का काम किया।जो जमुई की असल शोभा है।मौके पर सुन्नी उलेमा बोर्ड के सचिव जियाउर रसूल गफ्फरी,जीपउपाध्यक्ष पति हाफिज सिबगुल्लाह निजामी,मो.छोटू,गुड्डू मियां,मो.कल्लू खान,मो.डब्लू,विजय कुमार,नौशाद आलम सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

Comments are closed.