अपराधी हुए बेलगाम और प्रशासन की हर कोशिश नाकाम


रिपोर्ट – सोनू मिश्रा
पटना। बिहार में अपराधी कितने बेखौफ घूम रहे हैं इसके उदाहरण मिलते रहते हैं। राज्य में सुशासन का दावा करने वाले नीतीश कुमार के तमाम दावों को अपराधी अंगूठा दिखा रहे हैं। प्रशासन भी अब बेबस नजर आ रही है. सबसे हैरानी वाली बात यह है कि बिहार के एक छोटे जिले में कल तक एक अपराध तुंती नहीं बोलती थी आज कल अपराधियों का तांडव देखने को मिल रहा है ,जी हाँ हम बात कर रहे हैं शेखपुरा जिला की जहां अपराधी बेखौफ होकर पुलिस प्रशासन को अंगूठा दिखाते हुए अपराध का अंजाम दे रहे ,इनदिनों लूट और बाइक चोरी से यह जिला घबराया हुआ है और वहीं प्रशासन के लिए अपराधी को गिरफ्तार करना चुनौती बनते जा रहा,क्योंकि हर एक दिन छोड़कर अपराधी लूट या बाइक चोरी की वारदात को अंजाम दे रहें.

बीते 24 घण्टों के अंदर में इस जिले में इस तरह की वारदात हुई-
गुरुवार की रात्रि दो बाइक की चोरी जिले में हुई जिसमें शेखपुरा नगर क्षेत्र सतबिगही एवं बरबीघा के चंदुकुआँ मोहल्ला में ये वारदात हुई ,आपको बता दें खांडपर मोहल्ला निवासी राजेश महतो के पुत्र दीपक कुमार की ग्लैमर बाइक की चोरी तब हुई जब दोस्त से मिलने के लिए गए वहीं बरबीघा नगर जो कि यह क्षेत्र जिले में बाइक चोरी के मामले में चर्चित बनी हुई है ,वहां एक शादी समारोह में गए सिंकन्दर खान महुआतल,फैजाबाद निवासी की बाइक यमहा एफ जेड BR 21L 0988 गाड़ी की चोरी नगर के चंदुकुआँ से हुई.

शुक्रवार को दिनदहाड़े बरबीघा के भीड़ भाड़ वाले इलाके बैंक ऑफ इंडिया से डेढ़ लाख रुपये की निकासी कर जब बैंक से कुछ ही दूरी पर बरबीघा-बिहारशरीफ रोड में अवस्थित पुरानी पेट्रोल पंप के समीप पहुँची तो एक बाइक पर सवार दो बेखौफ अपराधी ने तेउस गांव वार्ड नं.6 के वार्ड सदस्य 40 वर्षीय जया देवी से रुपया का थैला छिनने के प्रयास क्रम में घसीटते हुए काफी दूरी तक ले गया जिसके बाद हुआ छिनने में सफल होकर वहां से फरार हो गया जिसके बाद महिला घायल हो गईं उन्हें रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया.वहीं जानकारी अनुसार एक नगर व्यवसायी जो साप्ताहिक बकाया पैसा वसूल कर लौट रहे थे खेतलपुरा के समीप बंदूक की नोख पर 80 हजार रुपये लूट लिए गए.

आपको बता दें बिहार के इस जिले के बरबीघा नगर और शेखपुरा नगर क्षेत्र में कुछ युवाओं में बहुत बड़ी भटकाव देखने को मिला है ,जानकारी अनुसार हर खेल पर सट्टा लगाना, चेहरा पहचानों इनाम पाओ और शराब माफियों के साथ सांठ-गांठ की संलिप्तता एक गैंग बनाकर चल रही है जहां 17-18 वर्ष के युवा इस तरह के गैंग में शामिल हैं और सूत्रों के मानें तो इनलोगों के पास हथियार भी देखे गए हैं और इनका जमावड़ा सुनसान और चाय स्टोलो और गुमटी के पास देखने को भी मिलता है. इस तरह से इस जिले में लगातार चोरी और लूट की घटना होना इनलोगों पर साफ साफ इशारा करता है. अगर जिला प्रशासन द्वारा ठोस कार्रवाई नहीं कि गयी तो आने वाले समय में अपराध के मामले भयानक रूप एक जबरदस्त गैंग बनाकर जकड़ लेगी ,अब सवाल ये है कि घटना घटने के बाद प्रशासन तो हमेशा जांच की बात कहती है मगर देखना ये है कि इतनी घटनाओं में कब तक अपराधी गिरफ्तार हो पाते हैं .इससे पहले भी जिले में 2 लूट के कांड हुए मगर अब तक प्रशासन द्वारा कोई खुलासा नहीं हो पाया है जो कि पुलिस प्रशासन के लिए कड़ी चुनौती बनती जा रही है .

Comments are closed.