शौच करने गई नाबालिक छात्रा का अपहरण कर किया सामूहिक दुष्कर्म


मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-चकाई थाना क्षेत्र से बीते 17 मई की दोपहर शौच करने गई नवम वर्ग की नाबालिग छात्रा का अपहरण कर दो युवकों ने देवघर ले जाकर हवस का शिकार बनाया।उसके बाद किसी को बताने पर जान मारने की धमकी देकर 24 घंटे बाद छोड़ दिया।बताया जाता है कि नवम वर्ग की एक नाबालिग छात्रा 17 मई की शाम अपने घर के बहियार की ओर शौच करने गई थी।तभी चकाई थाना क्षेत्र के उरबा गांव निवासी फागू दास का पुत्र जितेन्द्र दास तथा दासो दास का पुत्र भूदेव दास उसके रास्ते को रोकते हुए उसके मुंह को कपड़े से दाब कर बाइक से उसका
अपहरण कर लिया फिर कुछ दूर जाने के बाद उसे चार पहिया वाहन पर बैठा कर झारखंड के देवघर स्थित एक लॉज में लेकर गया।जहाँ दोनो युवक पढ़ाई करता था।

वहीं दोनो युवकों ने रातभर नाबालिग के साथ बारी – बारी से दुष्कर्म किया फिर 18 मई को उसे सतसंग चौक के समीप छोड़ दिया और सौ रूपय देकर घर जाने को कहते हुए फरार हो गया।सड़क किनारे खड़ी नाबालिग पर जब चकाई थाना क्षेत्र के एक व्यक्ति की नज़र पड़ी तो उसने नाबालिग के परिजन को सूचना देते हुए उसे घर लेकर आया।फिर नाबालिग ने सारी बात अपने परिजन को बताई तब परिजन ने चकाई थाना में मामला दर्ज कराने पहुँचे तो वहां से उसे महिला थाना जमुई भेज दिया गया।जहाँ गांव के ही दो आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया गया।इस बावत महिला थानाध्यक्ष ज्ञान भारती ने बताया कि पीडित द्वारा आवेदन दिया गया है। उसके आधार पर प्राथमिकी दर्जकर पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही हैं।

Comments are closed.