श्रावणी मेले को लेकर लगाई गई स्वास्थ्य शिविर से गायब रहे स्वास्थ्य कर्मी


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-श्रावणी मेले को लेकर जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार के आदेश पर कांवरियों के सुविधा के लिए जिले के चौक-चौराहों पर स्वास्थ्य शिविर लगाया गया है।लेकिन बरहट प्रखंड के पतौना मोड़ पर स्वास्थ्य विभाग द्वारा लागये गए शिविर का दृश्य बुधवार को कुछ और ही दिखा।शिविर तो जैसी होनी चाहिए बिल्कुल ठीक-ठाक थी लेकिन शिविर में न ही टेबल, कुर्सी दिखी और न ही कोई स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे।ऐसे में शिवर लगाने का उद्देश्य कैसे पूरा हो सकता है।खुलेआम डीएम के आदेश की धज्जियां उड़ाई जा रही है।

डीएम के सख्त आदेश के बावजूद कर्मी अपनी मनमानी करने में पीछे नहीं हट रहे हैं।इतना ही नहीं सुबह से लेकर शाम तक शिविर में एक भी कर्मी शिविर को देखने के लिए भी नहीं पहुंचे।बताते चलें कि बरहट प्रखंड के सबसे व्यस्ततम पतौना मोड़ जहां आये दिन घटना दुर्घटना होती रहती है।श्रावणी मेले के दौरान अगर कोई ऐसी दुर्घटना हो जाती तो क्या होता।इस संबंध में जब प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी एन.के.पंडित से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि शिविर में दो कर्मियों को लगाया गया है।शिविर से दोनो कर्मी बिना सूचना के गायब होने पर इसकी जांच करवाई जाएगी।दोषी पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Comments are closed.