देश में मौब लीचिंग पर सरकार कसे शिकंजा:-प्रदेश अध्यक्ष अबु नसर मालिक


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-रविवार को शहर के महिसौड़ी मोहल्ले स्थित मदरसा में आयोजित एक सेमिनार में मुख्य अतिथि के रूप में ऑल इंडिया उलेमा बोर्ड के प्रदेश अध्यक्ष मो.अबु नसर मालिक शिरकत होने पहुंचे।इस दौरान उन्होंने ऑल इंडिया उलेमा बोर्ड के संगठन को मजबूत करने की बात कही।साथ ही संगठन के विस्तार को लेकर कई निर्णय लिए गए।इस दौरान उन्होंने जिला अध्यक्ष के पद पर हाशिम मालिक सहित कई पदाधिकारियों के नाम की घोषणा की।उसके बाद लोगों से मुखातिब होते हुए केंद्र व राज्य सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि पूरे देश मे मौब लीचिंग का अपराध तेज़ी से बढ़ता जा रहा है खास कर बिहार और झारखंड में इसकी रफ्तार ज़्यादा तीव्र हो गई है।जिसे बिहार सरकार इस मौब लीचिंग पर अंकुश लागये और जल्द से जल्द अपराधियों को फांसी की सजा होनी चाहिए।तब ही अपराध रुकेगा।

आगे उन्होंने भगवाधारी और बजरंग दल को आतंकबादी का लक़ब देते हुए कहा कि समाज को तोड़ने वालों व साम्प्रदायिक तनाव फैलाने वालों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए।उन्होंने बताया कि थाना में धारा इतनी कमज़ोर लगाई जाती है कि अपराधी कुछ ही दिनों में बेल लेकर छूट जाते हैं।झारखंड में तबरेज के साथ जो हुआ बिहार में इंतेख़ार अहमद जो पश्चिम चंपारण के रहने वाले हैं जो घटना उनके और उनके तीन साथियों के साथ 10 महीना पूर्व हुआ था इलाज में 15 लाख रुपये खर्च होने के बावजूद उनकी जान नहीं बच सकी।ऑल इंडिया उलेमा बोर्ड सरकार से मांग करती है कि मौब लीचिंग में मरने वालों को 50 लाख रुपया मुआवज़ा और उनके परिवार के किसी एक सदस्य को नौकरी दिया जाए।और अपराधियों को फांसी के साथ बजरंग दल जैसे संगठन को हिंदुस्तान में बैन किया जाए।इस मौके पर सुन्नी उलेमा बोर्ड के सचिव ज्याउल रसूल गफ्फरी, हाफिज मो.निसार,डॉ मासूम अहमद,मो.हिफजुर रहमान,वार्ड आयुक्त,फिरोज़ आलम,मो.शेक समीद, प्रोफेसर अय्यूब,मो.अफसर सहित अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे।

Comments are closed.