कुपोषण से ग्रसित बच्चों की पहचान कर सुनिश्चित कराएं इलाज:-सीएस


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-सदर अस्पताल के संवाद कक्ष में शनिवार को राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत मासिक समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गई।बैठक की अध्यक्षता सिविल सर्जन डा. श्याम मोहन दास ने की। बैठक में कुपोषण से ग्रसित बच्चों की पहचान करने के लिए सभी चलंत चिकित्सा दलों को निर्देश दिया गया।साथ ही सीएस ने कहा कि जन्मजात विकृति से ग्रसित बच्चों का इलाज राज्य के विभिन्न चिकित्सा महाविद्यालयों में किया जा रहा है। इस लिए सभी लोग वैसे बच्चों की पहचान कर उनका इलाज सुनिश्चित करवायें।

वहीं सभी प्रखंडों में कार्यरत चलंत चिकित्सा दलों को ससमय सभी प्रतिवेदन कार्यक्रम से संबंधित पोर्टल पर डालने का भी निर्देश दिया गया।बैठक के उपरांत क्लब फूटबेयर से ग्रसित बच्चों का भी इलाज किया गया। साथ ही उक्त बच्चों को नि:शुल्क दवा भी दी गई। बैठक में एसीएमओ डा. वियजेंद्र सत्यर्थी, डीपीएम सुधांशु नारायण लाल, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य के जिला समन्वयक डा. कृष्णमूर्ति, शमीम अख्तर सहित आयुष चिकित्सक, फार्मासिस्ट, एएनएम आदि मौजूद थी।

Comments are closed.