रिजल्ट में गड़बड़ी हुई तो सड़कों पर बहेगा खून :- उपेन्द्र कुशवाहा


सोनू मिश्रा संवाददाता
पटना। पटना में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर महागठबंधन के नेताओं ने खुलेआम धमकी देते हुए कहा है कि अगर लोकसभा चुनाव परिणाम में कुछ गड़बड़ी करने की कोशिश की गई तो वे हिंसा और हथियार उठाने पर मजबूर होंगे। एनडीए सरकार में नरेंद्र मोदी के सहयोगी रहे राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि वे एग्जिट पोल को सिरे से खारिज करते हैं।

उन्होंने कहा कि महागठबंधन के समर्थकों को नीचा दिखाने के लिए जान बूझकर एक्जिट पोल का सहारा लिया जा रहा है और हिंसा की धमकी देते हुए कहा कि लोगों में इतना आक्रोश है कि अगर कोई खून खराबा होता है तो इसके जिम्मेदार नीतीश कुमार और केंद्र की सरकार होगी। मतगणना के दिन हमारे समर्थक और जनता तैयार रहे क्योंकि ये लोग कुछ भी कर सकते हैं और अगर रिजल्ट लूटने की घटना हुई तो सड़कों पर खून बहेगा।

बता दें कि बिहार में एग्जिट पोल के नतीजे पूरी तरह से एनडीए की तरफ हैं। Exit Poll के अनुसार बिहार में भारतीय जनता पार्टी को 15 सीटें, जेडी (यू) को 13, आरजेडी को 5, एलजेपी को 4, कांग्रेस को 2 और आरएलएसपी को 1 को सीट मिलने का अनुमान है। साल 2014 में बिहार में लोकसभा चुनाव में भाजपा ने सबसे ज्यादा 22 सीटें जीतीं थीं। भाजपा के अलावा एलजेपी को 6, जदयू को 2, राजद को 4, कांग्रेस को 2 और रालोसपा को 3 सीटें मिलीं थीं।

लोकसभा चुनाव के एक्जिट पोल आने के बाद विपक्ष के तमाम दलों ने चुनाव आयोग की कार्रवाई पर सवाल उठाए थे। मंगलवार को ही तेलुगू देशम पार्टी के अध्यक्ष और आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडूने भी ईवीएम में गड़बड़ी की आशंका जताते हुए चुनाव आयोग से इसकी शिकायत करने की बात कही थी। नायडू के अलावा विपक्ष के नेताओं एचडी कुमारस्वामी, ममता बनर्जी और संजय सिंह ने भी ईवीएम की गड़बड़ी की आशंका जताई थी। नायडू ने सोमवार को यह भी कहा था कि इस तरह की कई खबर सामने आ रही है, जिसमें ईवीएम की कंट्रोल यूनिट बदले जाने की बात कही गई है।

Comments are closed.