सेड़वा में झोलाछाप डॉक्टर टेन्ट हाउस के नाम पर चला रहा है अवैध क्लीनिक

रिपोर्ट-भुट्टाखान
बाड़मेर/सेड़वा। जिलेभर में आए दिन निम हकीमो एवं झोलाछाप डॉक्टरों की वजह से किसी ना किसी की की मौत की खबरे अक्सर हमें सुनने को मिलती है ।झोलाछाप डॉक्टर जो ऐसे की अपनी बनावट किसी एमबीबीएस डॉक्टर से कम नही रखते बाड़मेर जिले के सेड़वा तहसील में एक झोलाछाप डॉक्टर ने अपना अड्डा ऐसे तरीके से चला रहा कि किसी को देखने पर ये शक नही होगा कि ये कोई क्लीनिक है।या टेन्ट हाउस जी हां सेड़वा मुख्य बाजार में ही दुकान के ऊपर लिखा है। थार टेन्ट हाउस जब हमारी टीम ने खुफिया तरह से देखा तो अंदर पूरा एक अस्पताल बना है।अंदर कई महिलाओं एव बच्चों को दवाइयां एव इंजेक्शन लगाए जा रहे थे और दुकान के बाहर भी काफी भीड़ जमा नजर आई और अंदर के तरह की दवाइयां के ढेर लगे पड़े थे।यू कहे कि पूरा मेडिकल भी साथ मेवो भी बिना लाइसेंस के फायदे के साथ एक नजर में दिखने में टेन्ट हाउस जैसे दिखने वाले इस झोलाछाप क्लिनिक को अंदर से पूर्ण रूप से खुफिया तरीके से एक पूरा हॉस्पिटल बनाया गया जहां एक झोलाछाप लाधुराम विश्नोई डॉक्टर के वो सभी किरदार कर रहा था जो एक असली डॉक्टर करता है।

अब तक प्रशासन को भनक तक नही लगी
मुख्य बाजार में चल रहे इस मौत के काले खेल में जो उत्तर गया उसमे चार में से शायद तीन जिंन्द जीते परन्तु क्या अब तक जिला चिकित्सा विभाग एव स्थानीय प्रशासन की इस झोलाछाप के पर नजर क्यो नही पड़ी पड़े भी कैसे दुकान का नाम टेन्ट हाउस जो रखा है।

बिना लाइसेंस के कई अवैध मेडिकल
जिले भर में ऐसे कई अवैध डॉक्टर बनकर बैठे है जिनको पूरी तरह से ये भी पता नही की डॉक्टर की पढ़ाई किस कॉलेज में की जाती है।और आधी अधूरी जानकारी होने पर फर्जी एव बिना लाइसेंस के अवैध मेडिकल और साथ मे निजी अवैध क्लीनिक खोल कर भोली भाली जनता को लूट रहे है।
जब किसी झोलाछाप अवैध डॉक्टर की वजह से किसी व्यक्ति कि मुत्यु होती तब प्रशासन दो चार दिन के लिए अपनी आँखें खोलता है।

आसपास के लोगो का कहना
थार टेन्ट हाउस के नाम से लाधुराम विश्नोई फर्जी एव अवैध क्लिनिक चला रहा है। इस बारे हमने कई बार प्रशासनिक अधिकारियों को अवगत कराया परन्तु कोई करवाई नही हुई इस लिए यहाँ खुलत में इस तरह का अवैध हॉस्पिटल खोल लोगो की जान के साथ खेल रहा है। यहाँ बोर्डर इलाका है।यहां के रहवासी लोगो को क्या पता डॉक्टर क्या है।जिसने हाथ मे इंजेक्शन पकड़ लिया वो ही डॉक्टर और मजबूरन लोगो यहां इलाज करवाते है।

Comments are closed.