बाइक और सोने की चैन नहीं देने पर ससुराल वालों ने महिला को पीटकर किया घायल


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-दहेज की बली चढ़ने से एक महिला बाल-बाल बच गई।दहेज लोभियों के चंगुल से महिला उस वक़्त निकल गई जब ससुराल वाले महिला की पिटाई के बाद उसे मृत समझकर घर के बाहर छोड़ कर फरार हो गए।यह मामला जिले के खैरा थाना क्षेत्र अंतर्गत खडाइन्च पंचायत के जरगोहा गांव का है।जहाँ दहेज की मांग को लेकर ससुराल वाले करीब दो वर्षों से एक महिला को प्रताड़ित करते आ रहे थे।बताते चलें कि शहर के निमारंग मोहल्ले निवासी संदीप साव अपनी पुत्री सत्यभामा देवी की शादी करीब तीन वर्ष पहले खैरा थाना क्षेत्र के जरगोहा गांव निवासी नकुल साव के पुत्र श्यामसुंदर साव से कराई थी।शादी के कुछ दिनों तक सब कुछ ठीक-ठाक था।शादी के बाद महिला को एक पुत्री भी हुई।उसके बाद पति श्याम सुंदर साव द्वारा अपनी पत्नी से एक बाइक और सोने के चैन की फरमाइश की जाने लगी।जब दहेज देने में असमर्थ होने की बात बताई जाती थी तो पति के साथ सास,ससुर व देवर द्वारा महिला की जमकर पिटाई कर दी जाती थी।हालांकि महिला के प्रतिड़ित किये जाने की सूचना नैहर वालों को काफी दिनों बाद मिली।उसके बाद एक,दो नहीं बल्कि कई बार पंचायत द्वारा मामले का समझौता किया गया।जबकि मुखिया सागर साव द्वारा गुरुवार को समझौता के बाद फिर रविवार को पंचायत करने की बात कही गई थी।लेकिन दहेज लोभियों ने गुरुवार की रात ही महिला की जमकर पिटाई कर दी जब महिला बेहोश हो गई तो ससुराल वाले महिला को मृत समझ कर घर के बाहर रख दिया।

घर आने से दो दिन पहले ही पति ने जान मारने की दी थी धमकी
बताते चलें कि महिला के पति श्यामसुंदर साव चेन्नई में रेलवे में ग्रुप डी के पद पर कार्यरत है।04 दिन पहले ही उसके पति छुट्टी पर घर आया था।पीड़िता ने बताई की घर आने से दो दिन पहले ही मोबाइल पर मारने की धमकी दी थी।जिसके डर से महिला ने नैहर वालों को यह बात बता दी थी।जिसको लेकर रविवार को पंचायत द्वारा निर्णय लेने की बात कही गई थी।

महिला को मृत समझ कर ससुराल वालों ने घर के भर छोड़ा
पीड़ित महिला की मां मीनाक्षी देवी ने बताई की शुक्रवार की सुबह जब उसकी पुत्री बेहोशी की हाल में ससुराल के बाहर पड़ी थी तो ग्रामीणों की नज़र पड़ते ही इसकी सूचना उन्हें दी गई।तब उक्त महिला को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया।जहाँ महिला की स्थिति गंभीर बनी हुई है।

पति द्वारा जबरन पत्नी को ज़हर खिलाने का किया गया था कोशिश
पीड़ित महिला दत्यभामा देवी ने बताई की इससे पहले भी उसके पति द्वारा जबरन रोटी में ज़हर देकर खिलाने की कोशिश की गई थी जब महिला ने खाने से इनकार किया था तो उस रोटी को एक कुत्ते को खिला दिया गया जिससे उक्त कुत्ते की मौत हो गई थी।

बहन की शादी में महिला को जाने नहीं दिया नैहर
आगे पीड़िता ने बताई की कई महीने से उसे नैहर जाने नहीं दिया जाता था।नैहर जाने की बात पर उसके पति श्यामसुंदर साव द्वारा पहले बाइक और सोने का चैन देने की बात कहा जाता था।आगे पीड़िता ने बताई की उसकी छोटी बहन सकुन्तला कुमारी की शादी 17 मई को हुई थी लेकिन बहन की शादी में भी आने नहीं दिया गया।रविवार को पंचायत होने को लेकर गुरुवार की देर रात्रि महिला को उसके पति श्याम सुंदर दास,ससुर नकुल साव,गोतनी आरती देवी,देवर धर्मेंद्र कुमार,देवेंद्र,रंजीत,शिवशंकर साव,कपिलदेव साव,गायत्री देवी सहित सभी ससुराल वालों ने मिलकर जान मारने की नीयत से बेरहमी से पिटाई कर दिया।इधर परिजन द्वारा खैरा थाना में सभी आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया।फिलहाल सभी आरोपी फरार हैं।

Comments are closed.