प्रेम-प्रसंग में युवक ने उड़ीसा में रचाई शादी

रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:इश्क,मोहब्बत,हवस,शादी फिर धोखा एक ऐसा ही मामला जमुई के गरसंडा गांव में सामने आया है।जहाँ एक शादीशुदा दो बच्चे के पिता ने उड़ीसा के राउलकेला में एक युवती को प्यार के झांसे में फंसाया फिर उसे हवस का शिकार बनाया। इतना ही नहीं उससे हिन्दू रीतिरिवाज के साथ मंदिर और कोर्ट से शादी भी रचाई।जब कुछ महीने एक साथ रहने के बाद युवती गर्भ से हो गई तो वह युवक ड्यूटी पर जाने का बहाना बनाकर युवती को छोड़ कर गुरुवार की सुबह फरार हो गया।जब काफी देर तक युवक घर नहीं लौटा तो युवती ने युवक की खोज शुरू कर दी जब कहीं कुछ पता नहीं चला तो युवती अपने प्रेमी को ढूंढते हुए शुक्रवार को उसके घर जमुई शहर स्थित गरसंडा गांव पहुंच गई।जब प्रेमिका अपने प्रेमी के गांव पहुंची तो पता चला कि युवक पहले से दो बच्चों का पिता है।

परिजन ने प्रेमिका को रखने से किया इनकार
बताते चलें कि उड़ीसा से युवक के फरार होने के बाद शुक्रवार को अचानक परदेशी युवती के गरसंडा गांव में दस्तक देते ही पूरे गांव में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया।जब युवती युवक के घर पहुंची तो युवक के परिजन युवक को घर मे छुपा दिया और युवक के घर पर न रहने की बात कहने लगे लेकिन युवती को ग्रामीणों ने युवक के घर पर ही होने की जानकारी पहले ही दे दी थी तो फिर क्या था जैसे ही युवती घर पर गई तो युवक के परिजन द्वारा उसे घर के अंदर आने से मना कर दिया और यहाँ तक कि उसके साथ गाली-गलौज और मारपीट पर उतर आए।किसी तरह ग्रामीणों द्वारा युवती को बीच बचाव कर छुड़ाया गया।बताते चलें कि युवती और युवक के परिजन के बीच यह खींचा-तानी का दौरा सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक चलता रहा लेकिन कठोर प्रेमी ने उफ्फ तक नहीं किया।

युवक उड़ीसा में रहकर ठीकेदारी का करता था काम
बताते चलें कि जमुई के गरसंडा गांव निवासी कामेश्वर तांती के पुत्र श्रवण कुमार तांती लगभग 05 वर्षों से उड़ीसा के राउलकेला के बनय गांव में रहकर मार्बल के ठीकेदारी का काम करता था।उसके बाद वर्तमान में 02 वर्षों से राउलकेला के छेंड़ गांव में रह रहा था।इसी दौरान श्रवण की मुलाक़ात नवीन नायक की पुत्री सुमिता नायक से हुई और दोनो के बीच प्रेम प्रसंग शुरू हो गई।

2018 में दोनो की हुई थी शादी
दोनो के बीच चल रहे प्रेम-प्रसंग की जानकारी कुछ महीने बाद युवती के परिजन व ग्रामीणों को हुई तो ग्रामीणों ने दोनो का विवाह बड़ी धूम-धाम से 04 नवम्बर 2018 को हनुमान वाटिका मंदिर से करवा दिया।फिर दोनो ठीक-ठाक से साथ रहने लगे उसके बाद दोनो की शादी 16 मार्च 2019 को राउलकेला के कोर्ट से करवाई गई।इसी बीच युवती 03 महीने के गर्भ से हो गई।युवती अपने ससुराल आने के लिए युवक को तंग करती थी लेकिन युवक समझा-बुझा युवती की बात को टाल-बटोल करता रहा।और एक दिन मौका देख कर फरार हो गया।

न्याय की गुहार लगाने महिला थाना पहुँची युवती
जब सुबह से शाम तक युवक के घर के समीप रहने के बावजूद युवती को न प्रेमी के दर्शन हुए और न ही परिजन से इंसाफ मिला तो लाचार होकर युवती ने महिला थाना का सहारा थमा और देर शाम महिला थाना पहुंचकर इंसाफ की गुहार लगाने लगी।उसके बाद महिला थानाध्यक्ष ने युवती को इंसाफ का भरोसा दिलाया और युवती से सारी जानकारी ली।

Comments are closed.