श्रीमती स्वराज के निधन से देश एवं भाजपा को अपूर्णीय क्षती :-सुशील मोदी


राम नरेश ठाकुर, ब्यूरो
पटना। भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने सुषमा स्वराज के निधन पर गहरा दुख व्यक्त करते हुये आज कहा कि उन्होंने भारतीय जनता पार्टी और सरकार में अपनी हर भूमिका का दाईत्व पूर्ण निर्वहन करते हुये हमेशाआदर्श मानक स्थापित किये हैं। श्री मोदी ने कहा की भारतीय राजनीति की सशक्त नेत्री, प्रखर वक्ता, सुषमा स्वराज ने पार्टी और सरकार में अपनी हर भूमिका का आदर्श रूप में निर्वहन करते हुए हमेशा उच्च मानक स्थापित किये हैं। उनके निधन की खबर से मैं स्तब्ध हूं और सहसा हमें विश्वास ही नहीं हो रहा है कि वे अब हमारे बीच नहीं रही।

श्री मोदी ने कहा कि पूरे देश और पार्टी के साथ ही उनका निधन मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है। श्रीमती स्वराज के साथ 4०-42 बर्षो का लम्बा सम्पर्क रहा है। वर्ष 1977 में वह मात्र 25 वर्ष की थीं तो मुजफ्फरपुर में श्री जॉर्ज फनार्ंडीस की सभा में उन्हें सुनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ । उन्होंने कहा कि भाजपा और भारतीय राजनीति में श्रीमती स्वराज का स्थान हमेशा रिक्त रहेगा, जिसकी भरपाई संभव नहीं है। उनका अचानक हमारे बीच से सदा के लिए बिदा हो जाना स्तब्धकारी और अत्यंत दुखदायी है। ईश्वर उनकी दिवंगत आत्मा को असीम शांति प्रदान करें और सबको इस आघात को सहने की शक्ति दें।

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि वे श्रीमती स्वराज के निधन की खबर से स्तब्ध हैं। वह एक सादगीपसंद, कर्तव्यनिष्ठ, ईमानदार और आदर्शवादी नेता थीं। वह भाजपा की वरिष्तम नेताओं में से एक थीं। उनके निधन से भाजपा और देश को अपूरणीय क्षति हुई है, जिसकी भरपाई भविष्य में मुश्किल है। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें और संकट की इस घड़ी में परिजनों को कष्ट सहन करने की शक्ति दें। ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि श्रीमती स्वराज भारतीय राजनीति की एक महान हस्ती थी। उन्होंने विदेश मंत्री के कार्यकाल में अपनी बेहतर कार्यप्रणाली एवं संवाद की श्रेष्ठ शैली से अंतरार्ष्ट्रीय मुद्दों पर भारत की अलग पहचान स्थापित की। वह एक कुशल नेत्री के साथ प्रखर वक्ता भी थीं। वह सफल विदेश मंत्री के रूप में सदैव सबों के बीच याद की जाएंगी। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें।

Comments are closed.