कुशीनगर में उड़ान भरने के 10 मिनट बाद ही क्रैश हुआ वायुसेना का लड़ाकू विमान जगुआर


ऋषी तिवारी

उत्तर प्रदेश | कुशीनगर में सोमवार दोपहर वायुसेना का लड़ाकू विमान जगुआर क्रैश हो गया।विमान के गिरने से उसमें आग लग गई और देखते ही देखते विमान खाक में बदल गया। बताया जा रहा है कि उड़ान भरने के कुछ देर बाद ही ये विमान क्रैश हो गया। पायलट को इस हादसे में कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। ये विमान कुशीनगर के ग्रामीण हिस्से में खेतों में जाकर गिरा। जैसे ही खेतों में ये विमान गिरा उसके बाद गांव वालों की भीड़ वहां पर एकत्रित हो गई।यह विमान प्रशिक्षण उड़ान पर था। जगुआर विमान ने गोरखपुर एयरबेस से उड़ान भरी थी। उड़ान भरने के दस मिनट बाद ही विमान का संपर्क एयरबेस से संपर्क टूट गया था। सुपर सोनिक विमान जगुआर उड़ान भरने के बाद क्रैश हो गया। जिससे आमजन को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। वायुसेना की ओर से इस मामले में कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश जारी किया गया है।हादसे के बाद वायुसेना की ओर से सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया गया है, इस ऑपरेशन में दो हेलिकॉप्टरों को लगाया गया है। बीते साल गुजरात के कच्छ में भी लड़ाकू विमान जगुआर क्रैश हुआ था। जून 2018 में हुए उस हादसे में पायलट संजय चौहान शहीद हो गए थे।गौरतलब है कि वायुसेना में जगुआर काफी खास किस्म का लड़ाकू विमान है। यह दुश्मन की सीमा में काफी अंदर तक घुसकर हमला कर सकते हैं। लड़ाकू विमान जगुआर की मदद से आसानी से दुश्मन के कैंप, एयरबेस और वॉरशिप्स को निशाना बनाया जा सकता है। जगुआर की खासियत है कि वह कम ऊंचाई पर उड़ान भरकर भी दुश्मन की नाक में दम कर सकता है।

Comments are closed.