महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना के खिलाफ मैदान में 56 पार्टियों का महागठबंधन


आर.पी.मौर्या
मुंबई। बीजेपी-शिवसेना को टक्कर देने दे लिए एक महागठबंधन तैयार किया है। जिसमे कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस (NCP) और कई छोटी पार्टियों के साथ मिलकर यह बड़ा महागठबंधन तैयार किया गया है मराठी में इसे महाआघाड़ी का नाम दिया गया है. अब एनसीपी और कांग्रेस इन सभी दलों को में टिकट बंटवारे पर फैसला लिया जायेगा। जिन छोटी पार्टियों के चुनाव लड़ने की संभावना है, उनमें प्रमुख हैं-स्वाभिमानी शेतकारी संगठन, बहुजन विकास अगाडी और युवा स्वामिभमानी पार्टी है जो सत्तारूढ़ बीजेपी-शिवसेना गठबंधन ने 48 सीटों पर 25:23 के अनुपात में अपने-अपने उम्मीदवार खड़े करेंगे।
हालांकि पार्टी नेतृत्व से या पार्टी में अन्य किसी से नाखुश नहीं हैं, जिसके कारण उन्होंने पार्टी छोड़ी है. उन्होंने कहा, “मैं मुस्लिम समुदाय के लिए कुछ करने, उनकी समस्याएं सुलझाने और उनकी मांगें पूरी करने में उनकी मदद करना चाहता हूं। दूसरी ओर महाराष्ट्र में महागठबंधन को ध्यान में रखते हुए शिवसेना ने लोकसभा चुनाव के लिए अपने 23 सीटों के कोटे में से 21 सीटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। पार्टी ने अधिकांश सीटों पर मौजूदा सांसदों को ही उतारा है।
बीजेपी-शिवसेना गठबंधन पर दोनों पार्टियां यहां की 48 संसदीय सीट में से 25:23 के अनुपात से चुनाव लड़ रही हैं। पार्टी ने गठबंधन के अपने पांच छोटे दलों के लिए कोई सीट नहीं छोड़ी है। इस लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में एक तरफ बीजेपी-शिवसेना का गठबंधन होगा तो दूसरी ओर उन 56 पार्टियों का महागठबंधन होगा जिनकी अगुआई कांग्रेस और एनसीपी जैसे दल करेंगे। यह पहला मौका होगा जब महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना बनाम महागठबंधन की लड़ाई इतने बड़े स्तर पर देखी जाएगी।

Comments are closed.