डर का माहौल पैदा कर रही है ममता सरकार: अमित शाह


कोलकाता। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि बंगाल की जनता बड़ा परिवर्तन करने जा रही है और यहां भाजपा की प्रचंड लहर है। देश के सामने इस समय सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा है और एनडीए के पास मजबूत नेतृत्व है। विपक्ष पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि उनके पास देश की सुरक्षा को लेकर कोई स्पष्ट नीति नहीं है। साध्वी प्रज्ञा का बचाव करते हुए अमित शाह ने कहा कि उन्हें झूठे केस में फंसाया गया है।

अमित शाह ने ममता बनर्जी सरकार पर हमला करते हुए कहा है कि बंगाल में फिर से लाना चाहते हैं लोकतंत्र, यहां से घुसपैठियों को चुन-चुनकर निकालेंगे। राज्य की ममता बनर्जी सरकार डर का माहौल पैदा कर रही है। बंगाल के वोटरों से कहना चाहूंगा की डरने की जरूरत नहीं है। पूरा गांव एक साथ वोट डालने जाए, आपकी सुरक्षा के लिए सीआपीएफ और भाजपा के कार्यकर्ता लोकतंत्र के प्रहरी बनकर खड़े हैं। हम एनआरसी को देशभर में इंप्लीमेंट करेंगे। सिटिजन अमेंडमेंट बिल के माध्यम से दूसरे देशों से धार्मिक वजहों से हमारे देश में जो लोग शरणार्थी बनकर आएं हैं, उन्हें नागरिकता देने की बात संकल्प पत्र में कही है।

अमित शाह ने कहा है कि मोदी सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ पिछले पांच साल में जीरो टॉलरेंस की नीति को अपनाया है। हमारे संकल्प पत्र में हमने इस नीति को और आगे बढ़ाने का संकल्प किया है। लेकिन विपक्षी पार्टियां देश की सुरक्षा के अहम मुद्दे पर चुप दिखाई देती है। देश की सुरक्षा के लिए, देश के अर्थतंत्र की गाड़ी को पटरी पर लाने के लिए कठोर नेतृत्व देना का काम भाजपा ने किया है। विपक्ष के पास कोई नेतृत्व नहीं है। विपक्ष अपना न कोई नेता, न नीति देश के सामने रख पाया है।

धारा 370 का जिक्र करते हुए अमित शाह ने कहा, ‘राष्ट्र की सुरक्षा के लिए भाजपा स्पष्ट नीति लाई है। चाहे आतंकवाद हो, एनआरसी हो, सिटिजन अमेंडमेंट बिल हो, चाहे धारा 370 और 35ए को हटाने की बात हो। इस सभी बातों पर हमने अपने संकल्प पत्र में स्पष्ट नीति अपनाई है। गरीब कल्याण के लिए भाजपा की सरकार ने जो पांच साल के अंदर काम किए हैं उससे देश के 50 करोड़ लोगों को एक स्पष्ट मैसेज गया है कि बनने वाली भाजपा की सरकार गरीब कल्याण के लिए अपनी गति और अधिक तेजी से बढ़ाएगी’

Comments are closed.