मोदी ने कहा यह लोगों की आकांक्षाओं का बजट


ऋषी तिवारी
नई दिल्ली। लोकसभा में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पहला बजट पेश किया और इस बजट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह देश के लिए ड्रीम बजट है। यह यह लोगों की आकांक्षाओं का बजट है। इससे उद्यम-उद्यमियों को मजबूती मिलेगी और इसमें गांव-गरीब का ख्याल रखा गया है। यह बजट शिक्षा को बेहतर बनाएगा।

मोदी ने कहा है कि जनशक्ति के बिना जल संचय संभव नहीं है। जल संचय जनभावना से ही हो सकता है और स्वच्छ भारत मिशन की तरह हर घर जल का अभियान देश को जल संकट से निपटने के लिए पूरी तरह सक्षम बनाएगा। यह बजट नौजवानों के लिए नई संभावना के द्वार खोलेगा। यह बजट आपके सपनों का, संकल्पों का नया भारत बनाने का बजट है। मैं कल काशी में इस बारे में विस्तार से बोलने वाला हूं। ‘हमें सफलता भी मिली है। आज लोगों के जीवन में आकांक्षाएं हैं। यह बजट लोगों को विश्वास दे रहा है कि दिशा सही है, गति सही है। इसलिए लक्ष्य पर पहुंचना भी निश्चित है। यह आकांक्षा का बजट है। मैं निर्मला जी और उनकी टीम को बधाई देता हूं।

लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि इस बजट में कुछ भी नया नहीं है। पुराने वादों को दोहराया गया है। वे न्यू इंडिया की बात कर रहे हैं, लेकिन बजट नई बॉटल में पुरानी वाइन की तरह है। कुछ भी नया नहीं है। रोजगार के लिए कोई योजना नहीं है। इसमें नई पहल नहीं दिखती है।
कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा कि इस बजट में आम आदमी के लिए कुछ भी नहीं है। अब वह पेट्रोल और डीजल पर 2 रुपए ज्यादा चुकाएगा।
राजनाथ ने कहा- हर वर्ग का ख्याल रखा गया।

रक्षा मंत्री, राजनाथ सिंह ने कहा कि यह बजट देश में सामाजिक-आर्थिक बदलाव लाने वाला है। भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने में मदद करेगा। इसमें पिछड़े और गरीब समेत समाज के हर वर्ग का ख्याल रखा गया है। उधर, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बताया कि यह बजट गांव, गरीब और किसान की स्थिति को बदलने वाला है। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी बजट को आम लोगों के लिए बताया।

Comments are closed.