रामगोपाल पर मोदी का पलटवार


ऋषी तिवारी
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुलवामा आतंकवादी हमले और उसके बाद पाकिस्तान में भारतीय वायु सेना के हवाई हमले को लेकर विपक्षी दलों पर शुक्रवार को निशाना साधते हुए विपक्ष को ‘आतंकवाद के समर्थकों की शरणस्थली’ बताया और उस पर सशस्त्र सेनाओं का ‘अपमान’ करने का आरोप लगाया।
पित्रोदा के बयान के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता से विपक्षी नेताओं से सवाल पूछने की अपील की और विपक्ष पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया है कि विपक्ष हमारे सुरक्षाबलों का बार-बार अपमान कर रहा है। मैं जनता से आह्वान करता हूं कि विपक्षी नेताओं के बयान पर उनसे सवाल पूछें। उन्हें बताएं कि 130 करोड़ भारतीय विपक्ष की इन हरकतों को न तो भूलेंगे और न ही माफ करेंगे। भारत अपने सुरक्षबलों के साथ पूरी मजबूती से खड़ा है।
कांग्रेस राजघराने के वफादार ने मान लिया है कि कांग्रेस आतंकवादी ताकतों को जवाब नहीं देना चाहती थी। यह न्यू इंडिया है और हम आतंकवाद को उसी भाषा में जवाब देंगे जो उसे समझ में आती है।’ पित्रोदा ने कहा था कि पुलवामा की ही तरह मुंबई हमलों के बाद हम भी पाकिस्तान के अंदर हवाई हमले कर सकते थे, लेकिन यह सही तरीका नहीं है। उन्होंने कहा था, ‘मेरे ख्याल से आप दुनिया से इस तरह डील नहीं कर सकते।’

Comments are closed.