नीतीश कुमार मिशन अपने कार्यकाल की योजनाओं का दिया ब्यौरा


ब्यूरो राम नरेश ठाकुर
पटना। बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने 73वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पटना के गांधी मैदान में झंडोतोलन किया और हर साल की तरह झंडोत्‍तोलन के बाद बिहार की जनता को संबोधित भी किया है। नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री के तौर पर अपने बीते पांच सालों में शुरू की गई योजनाओं का लेखाजोखा जनता के सामने रखा और भाषण से साफ नजर आया कि नीतीश अपने मिशन 2020 की तैयारी में जुट गए हैं।

नीतीश ने कहा कि हमलोगों ने 2016 में शराबबंदी की थी और जिसके बाद 2016 से डब्लूएचओ ने इस फैसले को लेकर एक सर्वे भी कराया जो 2018 तक चला। सर्वे के दौरान कई चौकानेवाले खुलासे हुए है और 2016 में शराब के कारण पूरे विश्व में लगभग 30 लाख लोगों की मृत्य हुई। शराब के कारण सड़क दुर्घटना, आपसी झगड़े, मिर्गी का रोग, माउथ कैंसर, लिवर का कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर जैसी बीमारियों की पुष्टि भी हुई है। शराब बंदी के जरिये इन बीमारियों और मौत की संख्या को कम करने की कोशिश की गयी है। जो लोग शराब को लेकर गड़बड़ करेंगे उनपर कार्यवाई होगी। इ

नीतीश कुमार ने कहा कि हर घर नल का जल योजना के तहत अबतक 50 लाख 87 हजार घरों तक योजना का लाभ पहुंच चुका है। अगले साल तक इसे पूरा कर लिया जाएगा और पक्की नाली गली योजना के तहत अबतक ग्रामीण क्षेत्रों में 77 लाख 11 हजार घरों तक योजना पहुंच चुकी है। वहीं शहरी क्षेत्रों में 3 लाख 34 हजार घर योजना से आच्छादित हो चुके हैं। वहीं, हर घर शौचालय योजना के तहत 7635 पंचायतों को ओडीएफ घोषित किया जा चुका है। इस वर्ष अंत तक योजना को पूरा करने का लक्ष्य है।

नीतीश कुमार ने कहा कि अगले साल तक सभी जिला अस्पतालों में डायलिसिस और सीटी स्कैन की सुविधा उपलब्ध करा दी जाएगी। इसके अलावा अप्रैल 2020 से सभी पंचायतों में 9वीं की पढाई शुरु कर दी जाएगा। पर्यावरण को बचाने के लिए पटना के सभी डीजलवाले ऑटो सीएनजी में बदले जाएंगे। अब लोक शिकायत निवारण कानून में सड़क को भी शामिल कर दिया गया है। अगर कहीं सड़क खराब हो तो लोग इस कानून की मदद से सड़क ठीक करवा सकते हैं।

Comments are closed.