दिल्ली में भी लागू हो एनआरसी :-मनोज तिवारी


ऋषी तिवारी संवाददाता
नई दिल्ली। दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली में भी ऐसी लिस्ट बनाने की मांग की है और कहा कि दिल्ली में भी राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर तैयार करने की जरूरत है क्योंकि स्थिति गंभीर होती जा रही है। अवैध अप्रवासी जो यहां बस गए हैं, वे सबसे खतरनाक हैं, हम यहां भी एनआरसी को लागू करेंगे। असम की राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) की अंतिम सूची शनिवार को जारी कर दी गई है और जिसमें से लगभग 19 लाख लोगों के निकाल दिया गया है। अंतिम सूची से 19,06,677 लोग निकाले गए हैं. सूची में 3,11,21,004 लोगों को भारतीय नागरिक बताया जा रहा है।

दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने 31 अगस्‍त तक एनआरसी की अंतिम सूची जारी करने की अंतिम समय सीमा तय की थी। इस लिस्ट के जारी होने के साथ ही ये तय हो गया है कि मौजूदा वक्त में किसी भारत का नागरिक माना जाए और किसे नहीं। दरअसल, जिनका इस लिस्ट में नाम होगा बस वही देश के नागरिक माने जाएंगे और जिनका नाम नहीं होगा उन्हें भारतीय नहीं माना जाएगा। एनआरसी से बाहर किए गए लोगों को अब तय समय सीमा के अंदर विदेशी न्यायाधिकरण या फॉरेन ट्राइब्यूनल के सामने अपील करनी होगी। ऐसे में अब दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी NRC को दिल्ली में भी लागू कराने की मांग कर रहे हैं।

Comments are closed.