पाक ने बैन की भारतीय फिल्मों की CD


जम्मू-कश्मीर का आर्टिकल 370 हटाने पर भारत के कदम के बाद पाकिस्तान सरकार ने देश में भारतीय फिल्मों की सीडी की बिक्री के खिलाफ मुहिम शुरू की है। भाषा के अनुसार, कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने की प्रतिक्रिया में पाकिस्तान की ओर से उठाया गया यह नवीनतम कदम है। इससे पहले ‘पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेगुलेटरी अथॉरिटी ने भारतीय कलाकारों वाले और भारत निर्मित उत्पादों के विज्ञापनों के प्रसारण पर प्रतिबंध लगाया था। डॉन अखबार ने सूचना मामले पर प्रधानमंत्री की विशेष सलाहकार फिरदौस आशिक अवान के हवाले से कहा, ‘हमने भारतीय विज्ञापनों पर प्रतिबंध लगा दिया है और भारतीय फिल्में जब्त करने के लिये सीडी की दुकानों के खिलाफ मुहिम शुरू की है।’

उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय संघीय राजधानी इस्लामाबाद में भारतीय फिल्मों के खिलाफ पहले ही मुहिम शुरू कर चुका है और प्रांतीय सरकारों के साथ मिलकर इसे जल्द देश के अन्य हिस्सों में भी चलाया जायेगा। उन्होंने कहा, ”आज गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने इस्लामाबाद में सीडी की कुछ दुकानों पर छापा मारा और भारतीय फिल्में जब्त किया है।

पेमरा ने बुधवार 14 अगस्त को इस प्रतिबंध की घोषणा करते हुए एक पत्र जारी किया था। पेमरा ने कहा कि पिछले साल पाकिस्तान उच्चतम न्यायालय के निर्देशों पर भारतीय चैनलों एवं कंटेंट के प्रसारण की इजाजत वह पहले ही रद्द कर चुका है। पेमरा के पत्र के अनुसार, ”बहरहाल, यह देखा गया है कि विभिन्न बहुराष्ट्रीय उत्पादों के विज्ञापन जो या तो भारत में निर्मित हैं या जिनमें भारतीय कलाकारों/प्रतिभाओं ने अभिनय किया है, उनका इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर प्रसारण हो रहा है।

इसके अनुसार डेटॉल साबुन, सर्फ एक्सेल डिटर्जेंट पाउडर, पैंटीन शैम्पू, हेड एंड शोल्डर शैम्पू, लाइफब्वॉय शैम्पू, फॉग बॉडी स्प्रे, सनसिल्क शैम्पू, नॉर नूडल्स, फेयर एंड लवली फेस वॉश और सेफगार्ड साबुन के उत्पाद के विज्ञापन को प्रतिबंधित कर दिया गया है। भारत ने अंतरराष्ट्रीय सुमदाय से दृढ़ता से कहा है कि जम्मू कश्मीर पर फैसला उसका अंदरूनी मामला है और उसने पाकिस्तान से भी इसे स्वीकार करने का अनुरोध किया है।

Comments are closed.