पीएम की एक झलक पाने को बेताब दिखे लोग,घंटों कड़ी धूप में डटी रही महिलाएं व पुरुष

रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-मंगलवार को जिले के खैरा प्रखंड अन्तर्गत नरियाना पुल के समीप बल्लोपुर गांव के मैदान ने एक नया इतिहास रच दिया है।जब पीएम नरेन्द्र मोदी की सभा में लोगों का हुजुम उमड़ पड़ा और पीएम को देखने और उनका भाषण सुनने के लिए जिले के कोने-कोने से महिलाएं व पुरुष सभा स्थल पर पहुंच कर घंटों प्रतीक्षा करते रहे।ऐतिहासिक सभा में लाखों की भागीदारी बहुत कुछ बयां कर रही थी।सभा में अपने साथियों के साथ पहुंचे डाढ़ा पंचायत के राजमिस्त्री किशोर मंडल कहते हैं कि आज देश के राजा हमारे जिले में आये हैं। हम उन्हें पास से देखना चाहते हैं।महिला दीर्घा में बैठी कई छात्राएं रश्मि भारती, रिया कुमारी, राधा कुमारी बताती हैं कि पहली बार वो वोटर बनी हैं, और नरेन्द्र मोदी को अबतक टीवी में ही देखती थीं।अब पास से देख रही हैं।वहीं 85 साल की रामश्रृगारी देवी कहती हैं, नरेन्द्र मोदी ने देश बदला है, अब सभा में सामने देखकर मन खुश हो गया।उसने कहा कि मोदी ही हैं,जिन्होंने देश को बदला है।

मोदी की आस में घंटों नज़र टिकाए वैठे रहे लोग
सभा में 04 घंटे से अधिक समय से इंतजार कर रही विमला देवी, सुनिता देवी, गौरी देवी, संबती देवी बताती हैं कि मोदी जी और नीतीश कुमार के शासन में उनलोगों को घर में पानी, शौचालय मिला, उनके घर पक्के के बने। सभा में मोदी का अनोखा समर्थक भी पहुंचा जो अपने पूरे शरीर को भगवा रंग से रंगे हुए था और कमल फूल का पगड़ी बांधे हुए था।बेगुसराय निवासी श्रवण कुमार साह नामक उक्त व्यक्ति ने बताया कि मोदी जी की यह 52वीं सभा है,जिसमें शामिल हुआ हूँ।सुरक्षाबलों ने उसे वीआइपी गैलरी में जाने से रोका।लेकिन समर्थकों के नारेबाजी और जिद के आगे एक न चली।पिछले चार घंटे इंतजार कर रहीं नरेन्द्र मोदी को देखकर महिलाएं प्रफुल्लित हो गयीं। दोपहर एक बजे तक पूरा पंडाल लगभग भर गया। अनुमान के मुताबिक 70 हजार कुर्सियां पंडाल में लगाये गये थे। भव्य पंडाल में बस नरेन्द्र मोदी, हर-हर मोदी, नमो-नमो के नारे लगते देखे गये।

हेलीकॉप्टर दिखाई देते ही टूट गयी सारी कुर्सियां
पौने चार बजे ज्योंहि पहला हेलीकॉप्टर हवा में दिखाई दिया, एनडीए कार्यकर्ताओं, आमसभा में लोगों का जोश चरम पर आ गया। लोग पूरे जोश से नारे लगाने लगे।सभी लोग प्रधानमंत्री की एक झलक पाने के लिए लोग अपने-अपने कुर्सियों पर खड़े होने लगे जिससे पीछे बैठे लोगों को दिखाई नहीं देने को लेकर अचानक लोग कुर्सियां फेंकने लगे।हज़ारों की संख्यां में रखे कुर्सियों को बुरी तरह तहस-नहस कर दिया गया।सैकड़ों कुर्सियों को लोगों ने तोड़ डाला।सभास्थल के खुले मैदान में हजारों लोगों की भीड़ तपती धूप में कई घंटे डटे रहे। हजारों लोग नरेन्द्र मोदी का फेस मास्क लगाकर सभा में मौजूद नजर आये।

Comments are closed.