800 KG की भगवद्गीता का नरेंद मोदी करेंगे अनावरण


ऋषी तिवारी
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को दिल्ली के इस्कॉन टैंपल में विशाल 800 किलोमग्राम की भगवद्गीता का अनावरण करेंगे। यह विशाल भगवद्गीता 670 पन्नों की है और इसकी लंबाई 2।8 मीटर और चौड़ाई 2 मीटर है। इस धार्मिक पुस्तक के बारे में ऐसा कहा जा रहा है कि इसके हर पन्ने को पलटने के लिए चार लोगों की जरुरत पड़ती है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यहां के इस्कॉन मंदिर में दुनिया की सबसे वजनी भगवद्गीता का अनावरण करेंगे। 12 फीट लंबी और 9 फीट चौड़ी वाली इस पुस्तक का वजन 800 किलोग्राम है। इसे छापने में ढाई साल लगे और लागत डेढ़ करोड़ रुपए आई है। माना जा रहा है कि यह दुनिया की सबसे बड़ी धार्मिक किताब है। इस भगवद्गीता को ‘एस्टाउंडिंग भगवद् गीता’ नाम दिया गया है। दरअसल ये गीता इसलिए बेहद स्पेशल है क्योंकि ये दुनिया की सबसे ज्यादा वजन वाली गीता है, जिसे इटली में बनाया गया है। 12 फीट लंबी और 9 फीट चौड़ी किताब में 670 पेज हैं और इसका वजन 800 किलो है। इसे तैयार करने में सिंथेटिक कागज, सोना, चांदी और प्लेटिनम जैसे धातुओं का भी इस्तेमाल किया गया है। कुरु क्षेत्र की युद्धभूमि में भगवान श्रीकृष्ण ने अर्जुन को जो उपदेश दिया था वह श्रीमद्भगवदगीता के नाम से जाना जाता है। गीता हिंदुओं के लिए बेहद ही पवित्र ग्रंथ है।

Comments are closed.