रोपनी के बाद रिक्त भूमि पर वैकल्पिक फसल की करें तैयारी:-डीएम


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-समाहरणालय स्थित संवाद कक्ष में सोमवार को अधिकारियों की एक समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गई।बैठक की अध्यक्षता जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने की।जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि रोपनी के बाद जो भी रिक्त बचे हुए जमीन हैं उसपर वैकल्पिक फसल लगवाने की तैयारी करें।उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि शिक्षक नियोजन हेतु विभाग से आरक्षण रोस्टर की मांग बिंदुवार कर लें।मेधा सूची तैयार करने के लिए भी विभाग से उचित मार्गदर्शन की मांग करें।वहीं जिला शिक्षा पदाधिकारी विजय कुमार हिमांशु ने बताया कि शिक्षक नियोजन के लिए वर्तमान समय में ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन लिया जा रहा है.

जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार ने निर्देश देते हुए कहा कि फ्लोराइड प्रभावित क्षेत्रों में अक्टूबर तक चापाकल लगाना सुनिश्चित करें।जीविका के माध्यम से स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण और उसके इस्तेमाल के लिए लोगों को जागरूक करें। जल जीवन हरियाली अभियान के तहत अधिक से अधिक वृक्ष लगाने और पौधारोपण से होने वाले फायदे के बारे में लोगों को भी जानकारी प्रदान करें।

उन्होंने जिला कृषि पदाधिकारी संजय कुमार को निर्देश देते हुए कहा कि हर हाल में धान की रोपनी का आंकड़ा उपलब्ध करा दें और बचे हुए क्षेत्र में फसल योजना के आच्छादन हेतु कार्य योजना तैयार कर लें। ग्राम पंचायत बार किसानों का डाटाबेस तैयार कर लें,ताकि जिले को सूखाग्रस्त घोषित किए जाने पर किसानों को राज्य सरकार के द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ दिया जा सके।उन्होंने स्थानीय क्षेत्र अभियंत्रण संगठन के कार्यपालक अभियंता को कब्रिस्तान की घेराबंदी हेतु प्राक्कलन तैयार करके जिला अल्पसंख्यक कल्याण कार्यालय को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।मौके पर अपर समाहर्ता कुमार संजय प्रसाद, उप विकास आयुक्त अरुण कुमार ठाकुर समेत दर्जनों पदाधिकारी मौजूद थे।

Comments are closed.