जमुई में बारिश के साथ आसमान से बरसा कहर, वज्रपात से चली गई 08 लोगों की जान,05लोग हुए घायल


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-मंगलवार की शाम हुई जबरदस्त मूसलाधार बारिश ने एक ओर जहां किसानों के चेहरे पर खुशियां लौटाई तो वहीं दूसरी ओर कई जगहों पर कहर भी बरपाया।बारिश ने लोगों में खुशियां के साथ-साथ गम भी देकर चली गई।बताते चलें कि जिले के अलग-अलग जगहों पर हुई वज्रपात में 08 लोगों की मौत हो गई।वहीं दो मवेशी की भी जान चली गई।जबकि वज्रपात की चपेट में आने से 04 लोग जख्मी हो गए।मृतक में एक महिला व तीन मासूम बालक शामिल हैं।

बताते चलें कि मृतक में नगर थाना क्षेत्र अंतर्गत हरला गांव निवासी रणवीर मंडल का 5 वर्षीय पुत्र दिलखुश कुमार,आमीन गांव निवासी मो. मुस्ताफ का 12 वर्षीय पुत्र मो. नौशेर और मो.साहेब के 14 वर्षीय पुत्र मो.बबलू,बिहार मुहल्ला निवासी 60 वर्षीय सत्येंद्र सिंह और डुंडो गांव निवासी 68 वर्षीय प्रभु यादव,खैरा प्रखंड के सितमाडीह गांव निवासी मो.सरफुद्दीन के 14 वर्षीय पुत्र मो.सोहेल अंसारी,अब्दुल जब्बार के 13 वर्षीय पुत्र गुलाम रब्बानी और सिकन्दरा प्रखंड के पाठकचक गांव निवासी प्रकाश यादव की 45वर्षीय पत्नी विमली देवी की मौत हो गई।जबकि वज्रपात से हरला गांव निवासी धर्मेंद्र मंडल का पुत्र प्रिंस कुमार,पप्पू पासवान की पत्नी प्रेमा देवी,आमीन गांव निवासी मो.शरीफ के पुत्र मो.शाहिद,खैरा प्रखंड के सितमाडीह गांव निवासी मो.मुख्तार का 12 वर्षीय पुत्र मो.जसीम,धोबघट गांव निवासी हीरा यादव घायल हो गए।

वहीं सिविल सर्जन डा. श्याम मोहन दास ने सदर अस्पताल पहुंच कर घायलों की जानकारी ली।साथ ही उपस्थित चिकित्सकों को कई आवश्यक निर्देश भी दिया। उन्होंने कहा कि सभी चिकित्सक अस्पताल में मौजूद रहकर घालयों को इलाज करें और पोस्टमार्टम की भी प्रक्रिया जल्द से जल्द करें ताकि लोगों को किसी तरह की कोई परेशानी न हो सके।इधर मृतक व घायल को देखने सदर अस्पताल पहुंचे एसडीओ लखिन्द्र पासवान ने डीएस सैयद नौशाद अहमद से कहा कि पोस्टमार्टम की प्रक्रिया जल्द से जल्द शुरू करें और रात भर एलर्ट रहें कभी भी वज्रपात से घायल व मृत लोग पहुंच सकते हैं।उन्होंने कहा कि मृतक के परिजन को आपदा की ओर से जो राशि है उसे तुरंत दिया जाएगा।

Comments are closed.