ज़हरीला पदार्थ खाने से सिमुलतला आवासीय विद्यालय के छात्रा की तबियत बिगड़ी

रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-मुख्यमंत्री का ड्रीम व जमुई जिले का गौरव एक मात्र आवासीय विद्यालय सिमुलतल्ला जहाँ छात्र-छात्राओं के लिए सरकार सभी सुविघाएँ मुहैया कराने के लिए अग्रसर हैं।इस विद्यालय में पूरे बिहार के कई जिले के बच्चे व बच्चियां पढ़ाई कर रहे हैं।सिमुलतल्ला आवासीय विद्यालय पूरे सूबे में अपने आप मे एक मिसाल कायम कर रहा है।यह वही विद्यालय है जहाँ के छात्र और छात्राएं बिहार ही नहीं बल्कि पूरे देश मे अपनी काबलियत के परचम लहरा रहे हैं।मैट्रिक व इंटर की परीक्षा में यह एकलौता विद्यालय है जो कई वर्षों से बिहार को दर्जनों टॉपर छात्र-छात्राएं देता आ रहा है।
बताते चलें कि सिमुलतल्ला आवासीय विद्यालय में शायद यह पहली घटना है जहाँ की नौवीं वर्ग की छात्रा ने अचानक वृहस्पतिवार की देर शाम छात्रावास के कमरे में ज़हरीली पदार्थ खा ली।जिससे छात्रा की तबियत बिगड़ गई।छात्रा औरंगाबाद जिले की रहने वाली है।वहीं छात्रा की तबियत बिगड़ता देख इंटर की एक छात्रा बेहोश हो गई।वहीं गंभीर अवस्था में दोनो छात्रा को प्रिंसिपल और मेडिकल इंचार्ज द्वारा अनान-फ़ानन में रेफरल अस्पताल झाझा में भर्ती कराया गया जहाँ चिकित्सक ने छात्रा की स्थिति को गंभीर बताते हुए उसे बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल जमुई रेफर कर दिया।उसके बाद सदर अस्पताल के चिकित्सक आफताब आलम के द्वारा दोनो छात्रा का इलाज किया गया।फिलहाल छात्रा की स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है।

*कहते हैं प्रिंसिपल
छात्रा की तबियत बिगड़ने को लेकर सिमुलतल्ला आवासीय विद्यालय के प्रिंसिपल डॉ. राजीव रंजन ने बताया कि वृहस्पतिवार को सभी छात्राएं आपस में होली खेली खना खाया फिर शाम में अचानक नौवीं वर्ग के छात्रा की तबियत बिगड़ गई जिसे फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया।आगे उन्होंने बताया कि छात्रा स्कीन एलर्जी की दवा गलती से पी ली थी जिससे छात्रा की तबियत बिगड़ गई।फिलहाल छात्रा की तबियत ठीक है।

Comments are closed.