साध्वी प्रज्ञा चलीं योगी की राह

भोपाल। मध्य प्रदेश के भोपाल से बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर जनता से जुड़ने का नया मौका तलाश लिया है। पुराने भोपाल के भवानी मंदिर में पहुंचीं और मंदिर में पूरे भक्ति-भाव से पूजा-अर्चना की। चुनाव आयोग ने साध्वी का लाउडस्पीकर बंद कर दिया तो साध्वी ने भजन शुरू कर दिया है। पहले मां भवानी की आरती की और फिर आम श्रद्धालुओं के साथ भजन-कीर्तन किया और मंजीरा बजाया। इस दौरान मंदिर में मौजूद भक्त जय सियाराम के नारे लगा रहे थे। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने इसके बाद मंदिर में मौन साधना भी की।

इससे पहले यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर जब चुनाव आयोग ने बैन लगाया था तो उन्होंने भी मंदिर-मंदिर घूमकर इसका तोड़ निकाल लिया था। योगी आदित्यनाथ 16 अप्रैल को लखनऊ के हनुमान मंदिर पहुंचे और आज साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने भोपाल के भवानी मंदिर में पूजा की।

गौरतलब है कि चुनाव आयोग ने एटीएस के पूर्व प्रमुख दिवंगत हेमंत करकरे और बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले पर बयानों के लिये साध्वी प्रज्ञा के चुनाव अभियान पर बुधवार को 72 घंटे की रोक लगा दी। आयोग ने उनके बयानों की कड़ी निंदा करते हुए उन्हें भविष्य में कदाचार को नहीं दोहराने की चेतावनी दी। प्रज्ञा ने कहा था कि आतंकवादी विरोधी दस्ते (एटीएस) प्रमुख करकरे ने मालेगांव विस्फोट मामले की जांच के दौरान उन्हें यातनाएं दी थीं और उनके शाप की वजह से ही करकरे की 26/11 आतंकवादी हमले में मौत हुई थी। इसके अलावा उन्होंने एक बयान दिया था कि 1992 में अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में शामिल होने के लिये उन्हें अपने ऊपर गर्व है।

Comments are closed.