कप्तानी नहीं छोड़ना चाहते सरफराज अहमद


पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद अपनी टीम के विश्व कप सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करने में विफल होने से न तो शर्मसार हैं और न ही अपना पद छोड़ने के इच्छुक हैं। उन्होंने रविवार को कहा कि वह अपनी युवा टीम को अगले स्तर तक ले जा सकते हैं। लंदन से लौटने के बाद प्रेस कॉफ्रेंस में विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा कि टीम ने खराब प्रदर्शन नहीं किया और टीम नॉकआउट चरण के लिए क्वालीफाई करने के करीब थी।

सरफराज ने कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि हमें किसी भी चीज के लिए शर्मसार होने की जरूरत है। पहले पांच मैचों में हमारा समय मुश्किल रहा, विशेषकर भारत से हारने के बाद लेकिन जिस तरह से टीम ने वापसी की और अंतिम चार मैच जीते, उस पर मुझे गर्व है।’ उन्होंने कप्तानी से हटने के सुझाव से भी इनकार कर दिया।

सरफराज ने कहा, ‘पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड फैसला करेगा कि कौन कप्तान होगा। लेकिन व्यक्तिगत रूप से अगर आप मुझसे पूछोगे तो मैं कहूंगा कि मैं खिलाड़ियों को अब अच्छी तरह जानता हूं। ज्यादातर खिलाड़ी युवा हैं और अगर वे विश्व कप में अपनी गलतियों से सीख लेंगे तो मैं इस टीम को अगले स्तर तक ले जा सकता हूं। विशेषकर विश्व टी20 कप को देखते हुए जो अगले साल ऑस्ट्रेलिया में हो रहा है।

Comments are closed.