स्वागत से गदगद सऊदी प्रिंस मोहम्मद सलमान बोले- मैं PM मोदी का छोटा भाई


सौरभ सिंह
नई दिल्ली। सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान मंगलवार को दो दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे। बुधवार को वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। पुलवामा हमले को लेकर पाकिस्तान पर दबाव बनाने के लिए सऊदी अरब का साथ भारत के लिए अहम हो सकता है, इसलिए इस दौरे पर निगाहें बनी हुई हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान का गले लगाकर स्वागत किया। यहां मीडिया को संबोधित करते हुए प्रिंस ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेरे बड़े भाई जैसे हैं और मैं उनका छोटा भाई हूं।

राष्ट्रपति भवन में सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने कहा कि हम चाहते हैं कि दोनों देशों के संबंध ऐसे ही आगे बढ़ते रहें।
राष्ट्रपति भवन में सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान का औपचारिक स्वागत किया जा रहा है। इस दौरान उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रिंस सलमान का स्वागत किया।
गौरतलब है कि भारत के लिए सऊदी अरब के अहम पार्टनर है। भारत में इस्तेमाल होने वाला क्रूड ऑयल और एलपीजी की अधिकतर डिमांड सऊदी अरब ही पूरी करता है। सऊदी की ओर से भारत की 17 फीसदी क्रूड ऑयल और 32 फीसदी एलपीजी डिमांड पूरी होती है। इस दौरे पर भी दोनों देशों के बीच कई अहम समझौते हो सकते हैं।
भारत आने से पहले सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने पाकिस्तान का दौरा किया था। यहां उन्होंने ऐलान किया कि सऊदी अरब आने वाले वर्षों में पाकिस्तान में 20 अरब डॉलर का निवेश करेगा, उन्होंने पाकिस्तान को दुनिया का एक अहम देश भी बताया।
मंगलवार रात को क्राउन प्रिंस सलमान राजधानी दिल्ली पहुंचे, यहां खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पालम एयरपोर्ट पर जाकर उनका स्वागत किया था। दोनों देशों के बीच आज कई अहम आर्थिक करार हो सकते हैं, हालांकि सभी की नजर आतंकवाद के मुद्दे पर टिकी हैं। इसके अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू से भी वह मुलाकात कर सकते हैं।
सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान मंगलवार को दो दिवसीय यात्रा पर भारत पहुंचे। बुधवार को वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। पुलवामा हमले को लेकर पाकिस्तान पर दबाव बनाने के लिए सऊदी अरब का साथ भारत के लिए अहम हो सकता है, इसलिए इस दौरे पर निगाहें बनी हुई हैं।

Comments are closed.