शाहरुख खान को 5वीं बार मिलेगी डॉक्टरेट की मानद उपाधि


मेलबर्न फिल्म फेस्टीवल में ला टर्ब यूनिवर्सिटी शाहरुख खान को डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित करेगी। ये उपाधि उन्हें गरीब बच्चों की मदद, वुमन एम्पावरमेंट और मनोरंजन की दुनिया में दिए अपने योगदान के लिए दी जा रही है। शाहरुख मीर फाउंडेशन के फाउंडर है। इसका नाम उन्होंने अपने पिता के नाम पर रखा है। इसी फाउंडेशन के जरिए एक्टर लोगों मदद करते हैं।

सम्मान की घोषणा के बाद शाहरुख ने एक स्टेटमेंट जारी कर कहा- ‘इतनी बड़ी यूनिवर्सिटी के हाथों सम्मानित होना मेरे लिए गर्व की बात है। ऑस्ट्रेलिया की ला टर्ब यूनिवर्सिटी का भारतीय संस्कृति के साथ एक लंबा रिश्ता है। साथ ही ये हमेशा से ही महिलाओं की समानता की वकालत करती आई है। मुझे लगता है मैं इस मानद डॉक्टरेट के योग्य हूं और यूनिवर्सिटी का दिल शुक्रिया अदा करना चाहता हूं।’

इससे पहले तीन बार शाहरुख को डॉक्टरेट की उपाधि दी जा चुकी है। सबसे पहले उन्हें 2009 में ब्रिटिश यूनिवर्सिटी ऑफ बेडफोर्डशायर ने सम्मानित किया था। इसके बाद उन्हें 2015 में एडिनबर्ग यूनिवर्सिटी की तरफ से ऑनरेरी डॉक्टरेट की उपाधि दी गई। तीसरी बार उन्हें 2016 में हैदराबाद की मौलाना आजाद नेशनल उर्दू यूनिवर्सिटी के जरिए डॉक्टरेट की मानद उपाधि दी गई। वहीं चौथी बार उन्हें अप्रैल 2019 में लंदन विश्वविद्यालय से एक डॉक्टरेट द्वारा सम्मानित किया गया है।

Comments are closed.