सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरी शिवसेना


आर.पी.मौर्या संवाददाता
मुंबई। बुधवार को शिवसेना की ओर से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ किसानों को नहीं मिलने के खिलाफ बीमा कंपनी के खिलाफ बीकेसी स्थित भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस कंपनी के कार्यालय पर मोर्चा निकाला गया। इस मोर्चे में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता व प्रदेश के उद्योग मंत्री सुभाष देसाई, पर्यावरण मंत्री रामदास कदम और स्वास्थ्य मंत्री एकनाथ शिंदे समेत अन्य मंत्री शामिल थे। उद्धव ने राज्य की सभी निजी बीमा कंपनियों को किसानों के बीमा से जुड़े प्रलंबित प्रकरणों का 15 दिनों में निपटारा करने की चेतावनी दी और कहा कि बीमा कंपनियां हमें आक्रामक होने पर मजबूर न करे। उद्धव ने प्रदेश सरकार की कर्ज माफी योजना का लाभ देने वाले किसानों के नाम की सूची बैंकों को अपने द्वार पर लगाने के लिए 15 दिनों का समय दिया है।
उद्धव ने कहा कि देश में बड़े-बड़े उद्योगपति चूना लकाकर चले गए। उद्योगपति विजय माल्या और नीरव मोदी जैसे लोगों ने देश छोड़ दिया। ये उद्योगपति देश छोड़कर जा रहे हैं जबकि किसान देह (आत्महत्या) छोड़ रहे हैं। उद्धव ने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना है इसको प्रधानमंत्री बीमा कंपनी बचाओ योजना नहीं होने दिया जाएगा। वहीं शिवसेना सांसद अनिल देसाई ने कहा कि निजी बीमा कंपनियों को 22 हजार करोड़ रुपए का प्रीमियम भरा गया लेकिन किसानों को 12 हजार करोड़ रुपए मिले हैं। 10 हजार करोड़ से अधिक का लाभ बीमा कंपनियों ने ले लिया। मोर्चे में शामिल होने को लेकर मंत्री शिंदे ने कहा कि हम सरकार में भले हैं लेकिन किसानों के साथ जहां पर भी अन्याय होगा हम उनके साथ खड़े रहेंगे। शिंदे ने कहा कि किसानों के हित में मोर्चा निकालना विपक्ष का काम है लेकिन विपक्ष अपनी जिम्मेदारी को समझ ही नहीं पाया है।

Comments are closed.