एसपी दयाशंकर के लगातार सिंघम रौल से गुंडों में हड़कंप


सोनू मिश्रा संवाददाता
पटना। बिहार के शेखपुरा जिला में इनदिनों लगातार क्राइम हुए जिसके बाद जिला कप्तान की कप्तानी सिंघम रौल में टीम बना कर कई मास्टर माइंड अपराधियों को पकड़ा गया वहीं कई वांटेड अपराधी की खोजबीन लगातार जारी है,उसी बीच जिला कप्तान दया शंकर द्वारा थानों में गुंडा परेड कराया जा रहा, इस बीच गुंडों में हड़कंप मचा है, आपको बता दें पुलिस अधीक्षक दयाशंकर रविवार को बरबीघा थाना पहुंचकर गुंडा परेड में शामिल 85 अपराधी प्रवृत्ति के लोगों को जमकर फटकार लगाई।

गौरतलब कर दूं कि गुंडा परेड में 130 से अधिक लोगों की उपस्थिति की बात थी मगर 85 लोग ही उपस्थित हो पाए थे. उन्हें आपराधिक गतिविधियों से हट जाने की चेतावनी दी। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शराब के मामले से जुड़े लोगों को गुंडा परेड में प्रमुखता से शामिल किया गया। साथ ही साथ इस गुंडा लिस्ट में महिलाओं से छेड़छाड़ करने वाले सहित अन्य आपराधिक गतिविधियों में शामिल लोगों को शामिल किया गया है, साथ ही गुंडा पंजी में जिनका नाम दर्ज है उन्हें भी बुलाया गया था। गुंडा पंजी में दर्ज लोग अगर आपराधिक गतिविधियों में लगातार संलिप्त पाए जाते हैं तो उनपर कार्रवाई की जाती है।

यदि वे समय के साथ सुधर जाते हैं तो उनका नाम गुंडा पंजी से निकालने की प्रक्रिया शुरू की जाती है। अधिक उम्र हो जाने पर भी नाम निकाल दिया जाता है ,मगर जिन व्यक्तियों को सुधर जाने की सूचना होगी उसकी जांच कराने के बाद ही गुंडा लिस्ट से उनका नाम हटाया जाएगा। जिला कप्तान द्वारा गुंडा लिस्ट में शामिल प्रत्येक अपराधियों पर कड़ी से कड़ी निगाह रखने का तमाम थाना प्रभारी को बात कही गयी है और साथ ही साथ हर थाना में तैनात चौकीदार को ईमानदारी पूर्वक कार्य निर्वाह करने की चेतावनी भी दी है। इस अवसर पर पुलिस निरीक्षक सह थानाध्यक्ष चंदन कुमार और मिशन ओपी विकास कुमार के साथ बरबीघा थाना टीम मौजूद थे।

Comments are closed.