अपराध का योजना बनाते लूटकांड का दो आरोपी चढ़ा पुलिस की हत्थे

रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-लगातार तीन दिनों से सिकंदरा थाना क्षेत्र में नकाबपोश अपराधियों द्वारा लूट की घटना को अंजाम देने मामले में पुलिस ने लूटेरे के चेहरे को बेनकाब करते हुए दो अपराधी को गिरफ्तार कर लिया है।गिरफ्तार लूटेरे की पहचान सिकंदरा थाना क्षेत्र के अचारडीह गांव निवासी संजय यादव के पुत्र मिथलेश यादव और नावाडीह गांव निवासी नागेश्वर यादव के पुत्र टिंकू कुमार के रूप में हुई है।कुछ दिनों से दोनो अपराधी सिकन्दरा थाना क्षेत्र में दहशत फैलाए हुए था।जिसकी तलाश में पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर रही थी।

सक्रिय लूटेरों ने तीन दिन लगातार लूट की घटना को दिया अंजाम
इस सम्बंध में डीएसपी लालबाबू ने शनिवार को समाहरणालय स्थिति पुलिस अधीक्षक कार्यालय में प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि 25 मार्च को सिकंदरा थाना क्षेत्र के परसामा पेट्रोलपंप से साढ़े छः हज़ार रुपये की लूट हुई थी।एवं उसी के अगले दिन देर शाम गोखुला गांव के पास सुजाता पेट्रोलपंप से 26 हज़ार रुपये लूटा गया था और पुनः उसी के अगले दिन 27 मार्च की सुबह मवेशी व्यापारी से एक लाख 10 हज़ार रुपये लूटा गया था।तीनो वारदात में अपराधीयों द्वारा एक काले रंग का स्प्लेंडर बाइक और हथियार का प्रयोग किया गया था।

अपराधियों को पकड़ने के लिए की गई टीम गठित
आगे उन्होंने बताया कि घटना के बाद अपराधियों को पकड़ने के लिए एक टीम गठित की गई।टीम में सिकंदरा अंचल के पुलिस निरीक्षक जयशंकर मिश्रा,थानाध्यक्ष राजवर्धन कुमार,चंद्रद्वीप थानाध्यक्ष राजीव कुमार एवं सिकंदरा थाना के टाइगर मोबाइल जवान को शामिल किया गया।उसके बाद गुप्त सूचना के आधार पर सिकंदरा थाना क्षेत्र के नवडीहा बहियार से अपराध की योजना बनाते हुए दो अपराधी को धर-दबोचा गया।जिसके पास से लूटा गया 46100 रुपये नगद,लूटा गया आधार कार्ड,घटना में इस्तेमाल किया गया स्पलेंडर बाइक और गेरुआ रंग का गमछा बरामद किया गया।वहीं दोनों अपराधियों ने लूट की घटना में संलिप्त होने की बातों को स्वीकार किया है।आगे उन्होंने बताया कि अनुसंधान जारी है इस घटना में संलिप्त फरार अपराधियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Comments are closed.