प्रसव पीड़ा से बेचैन महिला को कोर्ट परिसर से अस्पताल में कराया गया भर्ती


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-जमुई न्यायालय में बुधवार को केस की पैरवी कराने आई एक महिला कोर्ट परिसर में ही प्रसव पीड़ा से परेशान हो गई।महिला के साथ आये परिजनों ने कोर्ट परिसर में मौजूद सीढ़ी के समीप महिला को पहुंचाया और साड़ी व कपड़े का घेरा कर महिला का पीड़ा कम करने की कोशिश करने लगी।लेकिन प्रसव पीड़ा कम नहीं हो रही थी।इधर प्रसव पीड़ा से तड़पते देख एक मीडिया कर्मी द्वारा अस्पताल प्रबंधक को फोन कर इसकी जानकारी दी गई।जानकारी मिलते ही अस्पताल प्रबंधक द्वारा फौरन एक एम्बुलेन्स भेज कर महिला को सदर अस्पताल लाया गया।जहां महिला चिकित्सक डा. श्वेता सिंह की उपस्थिति में एएनएम सुनीता और उषा द्वारा महिला का सुरक्षित प्रसव कराया गया।उक्त महिला की पहचान गया जिला के बेलाडीह गांव निवासी गणेश चौधरी की पत्नी लक्खी देवी के रूप में हुई है।

वहीं एएनएम सुनीता और उषा ने बताई की महिला का यह पहला प्रसव था और उसने बेटे को जन्म दिया है।जन्म के बाद जच्चा और बच्चा दोनों पूरी तरह स्वास्थ्य है। महिला ने बताया कि उसके पति गणेश चौधरी वाहन चालक है। दो माह पहले उसके पति देवघर से शराब लेकर जमुई के रास्ते होते हुए गया जा रहा थे।जिस दौरान जमुई पुलिस द्वारा शराब की खेप के साथ उसके पति गणेश चौधरी को गिरफ्तार कर लिया गया था।जो जमुई मण्डल कारा में बंद होने की वजह से केस में पैरवी के लिए अपने परिजन के साथ जमुई कोर्ट आई थी।

Comments are closed.