संयुक्त राष्ट्र मुस्लिमों पर अत्याचार को लेकर चुप है :- इमरान


इस्लामाबाद। पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद कश्मीरी लोगों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए शुक्रवार को ‘कश्मीर ऑवर’ का आयोजन किया और इस दौरान प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि कश्मीर में मुसलमानों पर भारत की तरफ से लगातार जुल्म हो रहा है और इस पूरे मामले पर संयुक्त राष्ट्र अब तक चुप्पी साधे हुए है। उन्होंने संघ और भाजपा पर भी निशाना साधा और कहा कि हमें आरएसएस की विचारधारा को समझने की जरूरत है। यह भाजपा मुस्लिमों से नफरत करने वाली पार्टी है। ये पार्टी हिटलर की नाजी पार्टी से प्रेरित है।

इमरान ने कहा कि संघ चाहता है कि मुस्लिमों को हटाएं या भारत में उनके साथ दोयम दर्जे का बर्ताव किया जाए। संघ की विचारधारा ने भारत से धर्मनिरपेक्षता को खत्म कर दिया है। उन्हें सिर्फ हिंदुत्व में भरोसा है। अगर दुनिया के नेता कश्मीरियों के साथ खड़े नहीं हो रहे हैं तो इसका असर वैश्विक स्तर पर नजर आएगा। क्या हुआ था जब लोग हिटलर के खिलाफ खड़े नहीं हुए थे। आज पूरा पाकिस्तान, जहां भी पाकिस्तानी नागरिक रह रहे हैं, हमारे छात्र, हमारे दुकानदार और मजदूर सभी कश्मीर की आवाम के साथ खड़े हैं। कश्मीरी लोग मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं। करीब 80 लाख कश्मीरी पिछले चार हफ्तों से कर्फ्यू के बीच रहने को मजबूर हैं। कश्मीर ऑवर का उद्देश्य पाकिस्तान की तरफ से कश्मीरियों तक यह संदेश पहुंचाना है कि हम आखिरी दम तक उनके साथ रहेंगे।

कार्यक्रम के दौरान राजधानी इस्लामाबाद की सभी सड़कों पर यातायात के सिग्नल लाल रखे गए। कॉन्स्टीट्यूशन एवेन्यू में मुख्य कार्यक्रम हुआ, यहां इमरान खान ने लोगों को संबोधित किया। सभा में कश्मीरियों के पक्ष में नारेबाजी हुई। इसके अलावा राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने लोगों के बीच अपनी बात रखी। पाकिस्तान में सभी शैक्षणिक संस्थानों, सरकारी और निजी कार्यालयों, बैंकों, व्यापारियों, वकीलों और सैन्य प्राधिकरणों ने इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया। पाकिस्तान में 27 सितम्बर तक साप्ताहिक प्रदर्शन होगा। इस दिन इमरान संयुक्त राष्ट्र में भाषण देंगे।

Comments are closed.