मतदान कर्मियों को बांटा गया नियुक्ति पत्र व सम्बंधित सामग्री,सभी कर्मी मतदान केंद्र को हुए रवाना


रिपोर्ट,मो.अंजुम आलम,जमुई (बिहार)
जमुई:-शहर स्थित के.के.एम.कॉलेज में मतगणना को लेकर वज्रगृह बनाया गया है।जहाँ से सभी मतदान कर्मियों को मतदान से संबंधित सामग्री का वितरण किया गया।बताते चलें कि जमुई लोकसभा क्षेत्र में 11 अप्रैल वृहस्पतिवार को चुनाव होना है।इस बाबत जिला प्रशासन द्वारा चुनाव की सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है।मंगलवार को जिले के चार विधानसभा क्षेत्रों में मतदान कराने वाले मतदान कर्मियों के बीच नियुक्ति पत्र तथा सामाग्रियों का वितरण किया गया।जिले के सभी चार जमुई, सिकंदरा, झाझा व चकाई विधानसभा क्षेत्र के प्रखंड मुख्यालय में शिविर लगाकर मतदान कर्मियों के बीच वोटर लिस्ट,अमिट स्याही,स्ट्रेचरी व नन स्ट्रेचरी पैकेट तथा मॉक पोल बक्सा का वितरण किया गया।वहीं बुधवार को सभी मतदान कर्मी कलस्टर से मतदान केंद्र को रवाना होने लगे।जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह डीएम धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि जिले के चार विधानसभा क्षेत्र के 1263 मतदान केंद्रों पर मतदान को लेकर 5200 कर्मियों को लगाया गया है।जिन्हें निर्वाचन संबंधी सामाग्री उपलब्ध करा दी गई है।डीएम धर्मेंद्र कुमार ने चकाई हाई स्कूल में सामग्री वितरण कार्यक्रम का खुद निरीक्षण भी किया।

वहीं 28 जोन व 72 कलस्टर में बांटे गए चार विधानसभा क्षेत्र शांतिपूर्ण व निष्पक्ष मतदान कराने को लेकर जिला प्रशासन ने चार विधानसभा क्षेत्र को 72 कलस्टर तथा 28 जोन में बांटा है।सिकंदरा विधानसभा में 17, जमुई में 14, झाझा में 19 तथा चकाई में 22 कलस्टर बनाए गए हैं।इसी प्रकार सभी चार विधानसभा क्षेत्र को 7-7 जोन में बांटा गया है।सिकंदरा, जमुई, झाझा में तीन सूपर जोनल पदाधिकारी तथा चकाई में चार की नियुक्ति की गई है जो चुनाव के हर गतिविधियों पर नजर रखेंगे।
हालांकि नक्सल प्रभावित 374 बूथ के मतदान केंद्रों को जिला प्रशासन ने तीन कटेगरी में बांट कर वहां मतदान के दौरान सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया है।जिले के 1263 मतदान केंद्रों में 523 मतदान केंद्र संवेदनशील घोषित किए गए हैं।जबकि 374 मतदान केंद्र को नक्सल प्रभावित घोषित किया गया है। जबकि 274 मतदान केंद्र सामान्य हैं। नक्सल प्रभावित इलाके में एक भवन वाले मतदान केंद्रों की संख्या 213 है।जबकि 64 भवनों में दो मतदान केंद्र है।वहीं 11 मतदान केंद्र ऐसे हैं जहां तीन बूथ बनाए गए हैं।इसके अलावा अति नक्सल प्रभावित इलाके के 28 मतदान केंद्रों को निकट के सुरक्षित मतदान केंद्रों को शिफ्ट किया गया है।

Comments are closed.