हम मैच जीतने आए हैं, हेलमेट पर गेंद मारने नहीं :-ऑस्ट्रेलियाई कोच


इंग्लैंड में चल रही एशेज सीरीज में लॉर्ड्स टेस्ट के ड्रॉ होने के बाद रोमांच बढ़ गया है, लेकिन उस मैच में स्टीव स्मिथ के जोफ्रा आर्चर की बाउंसर पर घायल होकर पहले बाकी मैच और फिर अब तीसरे टेस्ट से बाहर होने का मामला सुर्खियों में है। आर्चर ने अपनी बाउंसर से स्मिथ को परेशान कर दो बार चोटिल किया था और दूसरी बार स्मिथ को मैदान छोड़ कर ही जाना पड़ा था। स्टीव स्मिथ इस मैच के बाद अब तीसरे टेस्ट से भी कन्कशन चोट के कारण बाहर हो गए हैं।

लैंगर लंदन में आर्चर की तेजी से ही नहीं बल्कि इकोनॉमी से भी खासे प्रभावित दिखे जहां उन्होंने मैच में दो रन प्रति ओवर के करीब देकर 91 रन देकर 5 विकेट लिए थे और टीम को आर्चर के खिलाफ रन बनाने के तरीके खोजने होंगे। हमारे लड़के ऑस्ट्रेलिया में बहुत शॉर्ट बॉल क्रिकेट खेलते हैं। वे उछाल वाली पिच पर खेलते हैं। इसलिए वे बैकफुट पर खेलने के आदी हैं और मुझे यकीं है कि वे इसके हिसाब से तैयारी कर लेंगे।

लैंगर ने कहा है कि आपको अपनी काबलियत से खेलना होगा भावनाओं से नहीं और युवा खिलाड़ियों के लिए यह मुश्किल होता है यहां तक कि सीनियर खिलाड़ी भी माहौल के झासें में आ जाते हैं, लेकिन यह ईगो को खेल नहीं है आपको अपनी काबिलयत पर भरोसा करना पड़ता है और गेंद पर बाज की तरह नजर रखनी पड़ती है।

Comments are closed.