बिहार में बढ़ते अपराध को लेकर महिला संगठनों ने किया प्रदर्शन


राम नरेश ठाकुर, ब्यूरो
पटना। राज्य में बढ़ रही महिला हिंसा के खिलाफ महिलाएं सड़क पर उतर गई है और इससे डाकबंगला चौराहा और बेली रोड पर करीब एक घंटे तक जाम की स्थिति बनी रही। बाद में पुलिस पदाधिकारियों के आश्वासन पर महिलाएं शांत हुईं और परिचालन सामान्य हो सका।

महिला नेताओं का कहना है कि आज समाज में नफरत और हिंसा की मानसिकता की भावना को बढ़ावा दिया जा रहा है। महिलाओं और बच्चियों से दुष्कर्म की वारदात हो रही है और सरकार मौन है। अपराधियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। सीवान में कार्यरत महिला पुलिसकर्मी की संदिग्ध मौत ने पुलिस विभाग के अंदर महिलाओं के यौन उत्पीड़न को बेनकाब कर दिया है। सरकार इन मामलों में दोषियों पर कार्रवाई करने की बजाय उन्हें बचा रही है। महिला संगठनों ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड पर कहा कि सीबीआई इस मामले की जांच कर जल्द रिपोर्ट सौंपे। सरकार बच्चियों की सुरक्षा सुनिश्चित करे।

जाम लगने के बाद बेली रोड से आने वाले वाहनों का रूट डायवर्ट कर दिया। सभी वाहनों को डाकबंगला की बजाय तारामंडल से ही मोड़ दिया गया। किसी भी वाहन को डाकबंगला चौराहे तक नहीं जाने दिया जा रहा था। जाम के कारण स्टेशन से गांधी मैदान और गांधी मैदान से स्टेशन की ओर जाने वाले वाहन काफी देर तक फंसे रहे। इसमें कई स्कूली बसें भी फंसी रही।

Comments are closed.